उत्तराखंड हलचल

वैद्य बालेन्दु प्रकाश को यूपीईएस देहरादून ने प्रोफेसर पद से नवाज़ा

वैद्य बालेन्दु प्रकाश को यूपीईएस देहरादून ने प्रोफेसर पद से नवाज़ा

वर्ष 1999 चिकित्सा के छेत्र में सबसे कम आयु में पद्मश्री से अलंकृत किए थे, आयुर्वेद में रस शास्त्र आधारित चिकित्सा करने के लिए विख्यात नई शिक्षा नीति के तहत व...

दिल्ली-एनसीआर

जल-विज्ञान

सूख न जाएं कहीं पहाड़ों के प्राकृतिक जलस्रोत : नौल व धार

सूख न जाएं कहीं पहाड़ों के प्राकृतिक जलस्रोत : नौल व धार

अंतरराष्ट्रीय जल दिवस पर विशेष  चन्द्रशेखर तिवारी उत्तराखण्ड के पहाड़ी इलाकों में प्राकृतिक जलस्र...
उच्च हिमालयी शीतजलीय मछली असेला के प्रजनन में मानवीय हस्तक्षेप

उच्च हिमालयी शीतजलीय मछली असेला के प्रजनन में मानवीय हस्तक्षेप

डॉ. शम्भू प्रसाद नौटियाल विज्ञान शिक्षक रा.इ.का. भंकोली उत्तरकाशी (राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी भारत...
जैनेटिक विज्ञान का नया दावा : क्या जल से पहले पौधों की उत्पत्ति हुई?

जैनेटिक विज्ञान का नया दावा : क्या जल से पहले पौधों की उत्पत्ति हुई?

डॉ. मोहन चंद तिवारी क्या है भारतीय सृष्टि विज्ञान की अवधारणा? दो साल पहले उपर्युक्त शीर्षक स...

ई-प​त्रिका

Advertisement

ट्रैवलॉग

 भारत की कृषि कहावतें: कहे घाघ के सुन भडूरी!

 भारत की कृषि कहावतें: कहे घाघ के सुन भडूरी!

मंजू दिल से… भाग-32 मंजू काला कुछ पखवाड़े पहले की बात है, सुबह की चाय सुड़कते हुए एक समाचार ने...
बूंदेली “सावनी” और चपेटे

बूंदेली “सावनी” और चपेटे

मंजू दिल से… भाग-31 मंजू काला लोकजीवन की सरिता सुख और दुःख के दो किनारों के बीच निरंतर बहती रह...
राग मल्हार : करे, बादरा, घटा घना घोर

राग मल्हार : करे, बादरा, घटा घना घोर

मंजू दिल से… भाग-30 मंजू काला पावस ऋतु में मल्हार अंग के रागों का गायन-वादन अत्यन्त सुखदाय...
बारहमासा : विरह और मिलन की क्रियाओं का चित्रण!

बारहमासा : विरह और मिलन की क्रियाओं का चित्रण!

मंजू दिल से… भाग-29 मंजू काला फ़ागुन महीना... फूली सरसों... आम झरे.. अमराई.... मै अंगन...
Share this: