देश—विदेश

अजीत डोभाल तीसरी बार बने भारत के NSA

अजीत डोभाल तीसरी बार बने भारत के NSA

देश—विदेश
हिमांतर ब्यूरो पीएम मोदी की आंख और कान कहे जाने वाले उत्तराखंड में जन्मे 1968 बैच के आईपीएस अफसर अजीत डोभाल को तीसरी बार भारत का एनएसए बनाया गया है. आईबी के चीफ रहे अजीत डोभाल 31 मई 2014 को पहली बार प्रधानमंत्री के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बने थे. उसके बाद 2019 में और अब तीसरी बार एनएसए बने हैं. राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद का मुखिया राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार होता है. जिसका मुख्य काम प्रधानमंत्री को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर सलाह देना होता है. एनएसए का यह पद 1998 में पहली बार उस वक्त बना था जब देश में दूसरी बार परमाणु परीक्षण किया गया था. यह सरकार में एक अत्यंत महत्वपूर्ण ओहदा है. अजीत डोभाल का जन्म 20 जनवरी 1945 को पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड में हुआ. वह बेहद तेज तर्रार अधिकारी माने जाते हैं. उनकी विशिष्ट सेवाओं के लिए उन्हें 1988 में उन्हें कीर्ति चक्र से सम्मान...
मोदी की 14 गारंटियों के साथ भाजपा का संकल्प पत्र जारी

मोदी की 14 गारंटियों के साथ भाजपा का संकल्प पत्र जारी

देश—विदेश
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में भाजपा पार्टी मुख्यालय में संकल्प पत्र जारी किया गया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण संकल्प पत्र तैयार करने वाली समिति की संयोजक थी। इस अवसर पर भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हमारे वरिष्ठ नेताओं की गरिमामय उपस्थिति में भारतीय जनता पार्टी के ’लोकसभा चुनाव 2024’ का ’संकल्प पत्र’ देशवासियों के समक्ष रखा। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में विगत 10वर्ष सभी क्षेत्रों में देश के तेज विकास, हर वर्ग के बहुआयामी उत्कर्ष और भाजपा पर जन-जन के निरंतर बढ़ते विश्वास के रहे हैं। आज संपूर्ण भारत ’मोदी की गारंटी’ पर अपनी निष्ठा व्यक्त करते हुए 2047 तक ’विकसित भारत निर्माण’ के संकल्प की सिद्धि में संलग्न है। भाजपा के संकल्प पत्र में 14 वादे शामिल हैं। इसमें महिला सशक्तिकरण, युवाओं और गरीबों के उत्थान पर जोर दिया गया है। संकल्प पत्र में ज्ञान...
डॉ. हरीश रौतेला बनें सह क्षेत्र संपर्क प्रमुख

डॉ. हरीश रौतेला बनें सह क्षेत्र संपर्क प्रमुख

देश—विदेश
डॉ. हरीश रौतेला राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक रहे हैं और अब उन्हें सह क्षेत्र संपर्क प्रमुख बनाया गया है. वह अपनी सरलता, सौम्यता और सादगी के लिए लोकप्रिय है. डॉ हरीश रौतेला का मानना है कि वर्तमान युग पढ़ने का ही नहीं बल्कि शोध का भी युग है. वह कहते हैं कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ व्यक्ति निर्माण का कार्य करता है. व्यक्ति का निर्माण हो गया तो राष्ट्र का निर्माण हो जाएगा. हरीश रौतेला पर्यावरण सुरक्षा और प्रदूषण मुक्त भारत के स्वप्न को साकार करने में जुटे हैं. उनकी शख्सियत चकाचौंध से दूर रहकर अपने कार्य में जुटे रहने वालों की है. उत्तराखंड के लोकपर्व हरेला को वैश्विक बनाने में भी डॉ. हरीश रौतेला का महत्वपूर्ण योगदान है. उन्हें इस लोकपर्व से बेहद लगाव है और वह चाहते हैं कि हरेला से हर व्यक्ति सीख ले और पर्यावरण का संरक्षण करे. डॉ. हरीश रौतेला हरेला पर वृक्षारोपण करते हैं और लोगों को...
जीबीआर फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने किया तृतीय सीडीएस जनरल बिपिन रावत मेमोरियल लेक्चर का आयोजन

जीबीआर फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने किया तृतीय सीडीएस जनरल बिपिन रावत मेमोरियल लेक्चर का आयोजन

देश—विदेश
नई दिल्ली। जनरल बिपिन रावत की 66वीं जयंती पर दिल्ली में डॉ भीमराव अम्बेडकर सेंटर के समरसता सभागार में जीबीआर फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने तृतीय मैमोरियल लेक्चर का आयोजन किया। जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल मुख्य अतिथि और विशिष्ट अतिथि के रूप में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल अनिल चौहान, जीबीआर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष एवं पूर्व वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया, स्वर्गीय जनरल बिपिन रावत की सुपुत्री तारिणी रावत और आजतक के सीनियर एडीटर और वरिष्ठ रक्षा पत्रकार एवं जीबीआर मेमोरियल फ़ाउंडेशन ऑफ़ इंडिया के सचिव मनजीत नेगी मुख्य वक्ता थे। कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्ज्वलन से हुआ। इस अवसर पर सभागार में मौजूद सभी लोगों द्वारा सीडीएस जनरल बिपिन रावत को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। कार्यक्रम में तीनों सेनाओं के अधिकारी, रक्षा सुरक्षा से जुड़े लोग एवं जनरल बिपिन रावत को चाहने वाले बड़ी संख्या में लोग ...
उत्तराखंड : देश में लागू हुआ CAA, नोटिफिकेशन जारी

उत्तराखंड : देश में लागू हुआ CAA, नोटिफिकेशन जारी

देश—विदेश
नई दिल्ली : चुनावों की तारीखों का ऐलान हो सकता है। ऐसे में आज केंद्र सरकार ने देश में नागरिकता संसोधन कानून CAA का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। लोकसभा चुनावों से पहले केंद्र सरकार का यह बड़ा कदम है। इसके तहत अब तीन पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यकों को भारत की नागरिकता मिल जाएगी। CAA के तहत अब मुस्लिम समुदाय को छोड़कर तीन मुस्लिम बहुल पड़ोसी मुल्कों से आने वाले बाकी धर्मों के लोगों को नागरिकता मिल जाएगी। केंद्र सरकार ने सीएए से संबंधित एक वेब पोर्टल भी तैयार किया है। तीन मुस्लिम बहुल पड़ोसी मुल्कों से आने वाले रे अल्पसंख्यकों को इस पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा और सरकारी जांच पड़ताल के बाद उन्हें कानून के तहत नागरिकता दी जाएगी। इसके लिए बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आए विस्थापित अल्पसंख्यकों को कोई दस्तावेज देने की जरूरत नहीं होगी। बता दें कि साल 2019 में नरेंद्र मोदी की अगु...
श्रीलंका में 22वें अंतर्राष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन में कवि-पत्रकार जगमोहन ‘आज़ाद’ मुक्तिबोध स्मृति सम्मान से सम्मानित

श्रीलंका में 22वें अंतर्राष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन में कवि-पत्रकार जगमोहन ‘आज़ाद’ मुक्तिबोध स्मृति सम्मान से सम्मानित

देश—विदेश
सांस्कृतिक विविधता की भूमि श्रीलंका (कोलंबो) में 18 से 25 फरवरी तक 22वें अंतर्राष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन का आयोजन हुआ। जिसमें भारत से लगभग 55 ख्यातनाम साहित्यकारों,बुद्धिजीवी और समाज से जुड़े विभिन्न प्रबुद्धजनों ने सहभागिता की। सम्मेलन में विभिन्न विधाओं में प्रकाशित कृतियों का विमोचन भी किया गया। इस बार सम्मेलन की संगोष्ठी का विषय था,'राम का नाम-राम का काम' जिस पर व्यक्ताओं ने अपने-अपने विाचर व्यक्त किए। श्रीलंका में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन का उद्घाटन 18 फरवरी को दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ। कार्यक्रम में श्रीलंका में हिंदी भाषा के लेखकों,अनुवादकों,रिसर्च स्कॉलरो और अध्यापकों को 'महात्मा गांधी स्मृति सम्मान' से सम्मानित किया गया। अतिथि सहभागी के तौर पर केलनिय विश्वविद्यालय श्रीलंका के वरिष्ठ प्रोफेसर डॉ.लक्ष्मण साथ ही डॉ.नीता सुभाषिणी सेनेविरत्न,डॉ.इ.जी.वजीर गुणसेना,डॉ.अमिला दमयं...
अब केंद्रीय विद्यालयों की फीस Google-pay, PhonePe से भी कर सकेंगे जमा

अब केंद्रीय विद्यालयों की फीस Google-pay, PhonePe से भी कर सकेंगे जमा

देश—विदेश
नई दिल्ली : केंद्रीय विद्यालयों में पढ़ने वाले 14 लाख से अधिक छात्रों को केंद्रीय विद्यालय संगठन (KVS) ने बड़ी राहत दी है। वे अब अपनी फीस का भुगतान भारत बिल पेमेंट सिस्टम से जुड़े फोन-पे, गूगल-पे (Google-pay, PhonePe) और Amazon Pay सहित करीब चार सौ अलग-अलग प्लेटफार्मों से भी कर सकेंगे। अभी तक वह अपनी फीस को अलग- अलग बैंकों या फिर NBFC (नान बैकिंग फाइनेंस कंपनी) के जरिये ही आनलाइन जमा कर सकते थे। ऐसे में इस फैसले को छात्रों और अभिभावकों के लिए राहत देने वाला अहम कदम माना जा रहा है। केंद्रीय विद्यालय संगठन ने यह कदम अभिभावकों की दिक्कतों के साथ ही रिजर्व बैंक की सलाह को ध्यान में रखते हुए उठाया है। जिसमें रिजर्व बैंक ने संस्थानों से ईज आफ डूइंग बिजनेस और डिजिटल इंडिया की पहल के जरिये सभी तरह के पेमेंट सिस्टम को आसान बनाने का सुझाव दिया था। हालांकि, इस सिस्टम को शुरू करने के पहले KVS ने...
लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान

लालकृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न सम्मान

देश—विदेश
बीजेपी के वरिष्ठ नेता और देश के पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी (Lal Krishna Advani) को सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा जाएगा। पीएम मोदी ने एक्स पर पोस्ट कर उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किए जाने की जानकारी दी है। उन्होनें कहा- मेरे लिए यह भावुक क्षण है। बता दें कि पाकिस्तान के कराची में जन्में लालकृष्ण आडवाणी सबसे अधिक समय तक राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं। उन्होनें राम मंदिर आंदोलन में भी अहम भूमिका निभाई थी। आइये जानते हैं उनके जीवन से जुड़े कुछ जरुर तथ्य। कराची से भारत का सफर भाजपा के वरिष्ठ नेता और देश के सातवें उप-प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी का जन्म पाकिस्तान के कराची में 8 नवंबर. 1927 को एक हिंदू सिंधी परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम किशनचंद आडवाणी और मां का नाम ज्ञानी देवी है। उनके पिता पेशे से एक उघमी थे। शुरुआती शिक्षा उन्होनें कराची के से...
रामलला की प्राण प्रतिष्ठा संपन्न, 500 वर्षों से अधिक का इंतजार खत्म

रामलला की प्राण प्रतिष्ठा संपन्न, 500 वर्षों से अधिक का इंतजार खत्म

देश—विदेश
अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा संपन्न हो गई है। 500 वर्षों से अधिक का इंतजार खत्म हो गया है। रामलला राम मंदिर के गर्भगृह में विराजमान हो गए हैं। रामलला राम मंदिर के गर्भगृह में विराजमान हो गए हैं। प्राण प्रतिष्ठा के अनुष्ठान में पीएम मोदी, संघ प्रमुख भागवत और सीएम योगी यजमान बने। पीएम नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि मंदिर में राम लला की मूर्ति का अनावरण किया। प्रधानमंत्री मोदी और मोहन भागवत ने हाथ में कुशा धारण की। गर्भ गृह में प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बैठे हैं।...
साध्वी ऋतंभरा के षष्ठिपूर्ति महोत्सव में शामिल हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

साध्वी ऋतंभरा के षष्ठिपूर्ति महोत्सव में शामिल हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

देश—विदेश
मथुरा : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शनिवार को मथुरा में साध्वी ऋतंभरा के षष्ठिपूर्ति महोत्सव में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने साध्वी ऋतंभरा को वात्सल्य और ममता की प्रतिमूर्ति बताते हुए शुभकामना दी तथा उनके सुदीर्घ जीवन की कामना की। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर उपस्थित संत महात्माओं को भी नमन कर उनका आशीर्वाद लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि साध्वी ऋतंभरा का व्यक्तित्व अद्भुत और कृतित्व अकल्पनीय है। उनकी वात्सल्य शक्ति से न जाने कितनी बच्चियों को प्रेरणा और नया जीवन मिला। उनसे सदैव वात्यल्य और ममता का सानिध्य प्राप्त होता हे। मुख्यमंत्री ने कहा कि साध्वी ऋतंभरा के स्नेह और आशीर्वाद से उन्हें व्यक्तिगत रूप से हमेशा लोगों की सेवा करने की शक्ति मिलती है। वे स्वयं उनसे सबसे पहले तब प्रभावित हुए थे जब उनके मुखारबिंदु से श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन के समय प्रखर उद्बोधन सुना था। उनके ओजस्वी उद्बोधन ने लाखों ल...