देहरादून

उत्तराखंड गौरव पुरस्कार की शुरुआत 9 नवंबर से, उत्तराखंड महोत्सव के रूप में आयोजित होगा राज्य स्थापना दिवस

  • हिमांतर ब्यूरो, देहरादून

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित बैठक में बताया कि राज्य स्थापना दिवस को उत्तराखंड महोत्सव के रूप में मनाया जाएगा. एक सप्ताह तक आयोजित होने वाले इस महोत्सव के दौरान राजधानी से because लेकर न्याय पंचायत स्तर तक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे. मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर उत्तराखंड गौरव पुरस्कार प्रदान किये जाने की भी बात कही, जिसमें राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान देने वाले प्रतिष्ठित लोगों को पुरस्कृत किये जाने की व्यवस्था की जाए.

ज्योतिष

उन्होंने अधिकारियों को कार्यक्रमों की संख्या नहीं, गुणवत्ता एवं गरिमा पर ध्यान देने की बात कही. मुख्यमंत्री ने वीडिया कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े आयुक्तों एवं जिलाधिकारियों से जनपदों में because आयोजित हाने वाले कार्यक्रमों की जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिये कि सभी अधिकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राज्य हित से जुड़ी अपेक्षाओं के अनुरूप विकास योजनाओं के क्रियान्वयन एवं उत्तराखंड को विकास की दृष्टि से अग्रणी राज्यों में शामिल करने के लिये भावी योजनाओं के संचालन में अपने विवेक एवं अनुभवों के भी उपयोग पर ध्यान दें. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के समग्र विकास में हम सबको सहयोगी बनना होगा. मुख्यमंत्री ने राज्य के विकास का विभागवार वीजन भी तैयार किये जाने पर जोर दिया.

ज्योतिष

बैठक में सचिव सामान्य प्रशासन because विभाग विनोद कुमार सुमन ने प्रस्तावित कार्यक्रमों की रूप रेखा प्रस्तुत की. उन्होंने बताया कि 21वें राज्य स्थापना दिवस समारोह के विशेष अवसर पर 9 नवम्बर, 2021 को प्रातः 9ः55 से 11ः30 बजे तक पुलिस लाईन, देहरादून में “राज्य स्थापना दिवस” आयोजित की जायेगी जिसमें उत्तराखंड पुलिस के जवानों द्वारा प्रतिभाग किया जायेगा तथा परेड की सलामी राज्यपाल द्वारा ली जायेगी. परेड के पश्चात् राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री द्वारा सम्बोधन किया जाएगा. उन्होंने कहा कि शीघ्र ही सभी विभागों एवं जिलाधिकारियों को बैठक में लिये गये निर्णयों से अवगत करा दिया, ताकि इस अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को बेहतर ढ़ंग से आयोजित किया जा सके.

ज्योतिष

इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, because स्वामी यतीश्वरानन्द, मुख्य सचिव डॉ. एसएस सन्धु, अपर मुख्य सचिव आनन्द बर्द्धन, पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार, अपर प्रमुख सचिव अभिनव कुमार, सचिव वीवीआरसी पुरुषोतम, एसए मुरूगेशन, महानिदेशक सूचना रणवीर सिंह चैहान सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे.

Share this:

Himantar Uttarakhand

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *