दिल्ली-एनसीआर

जीबीआर मेमोरियल फाउंडेशन ऑफ इंडिया की बैठक नई दिल्ली में सम्पन्न

जीबीआर मेमोरियल फाउंडेशन ऑफ इंडिया की बैठक नई दिल्ली में सम्पन्न

दिल्ली-एनसीआर
हिमांतर ब्यूरो, नई दिल्ली जीबीआर मेमोरियल फाउंडेशन ऑफ इंडिया की बैठक एयर फोर्स एसोसिएशन आफिस, नई दिल्ली में आयोजित की गई. इस बैठक की अध्यक्षता जीबीआर मेमोरियल फाउंडेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष और पूर्व एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने की. इस बैठक में निर्णय लिया गया कि हमें जनरल बिपिन रावत के विचारों को आगे ले जाना है. जिस प्रकार से जनरल बिपिन रावत देश को आगे ले जाने की सोच रहे थे हम सबको मिलकर उनके प्रयासों को पूरा करना होगा. उन्होंने अपने जीवन में जिन आदर्शों के साथ देश सेवा की वह बहुत ही सराहनीय है. इसीलिए अब जीबीआर मेमोरियल फाउंडेशन ऑफ इंडिया का गठन किया गया है जो उनके विचारों और कामों को आगे ले जाने का काम करेगा. जीबीआर मेमोरियल फाउंडेशन ऑफ इंडिया के बनाने का मुख्य कारण स्वर्गीय जनरल बिपिन रावत के दृष्टिकोण को पूरा करने के लिए भारतीय सशस्त्र बलों और सिविल सेवाओं में अधिकारी बनाने क...
बाल कलाकार सृजन पाण्डेय बेंगलुरू में ‘नाट्य प्रज्ञा सम्मान’ से सम्मानित

बाल कलाकार सृजन पाण्डेय बेंगलुरू में ‘नाट्य प्रज्ञा सम्मान’ से सम्मानित

दिल्ली-एनसीआर
संस्कृति मंत्रालय-भारत सरकार व 'वर्ल्ड फोरम फॉर आर्ट एंड कल्चर' द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी नृत्य, गीत, संगीत व नाटक, भारतीय शास्त्रीय कला रूपों की राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता 'झंकृति' का आयोजन इस वर्ष अगस्त-दिसम्बर 2023 तक किया गया। 'झंकृति' दुनिया भर के युवा कलाकारों, वरिष्ठ कलाकारों और सांस्कृतिक उत्साही लोगों के लिए अपनी प्रतिभा, परंपराओं और कलात्मक अभिव्यक्तियों को प्रदर्शित करने का एक अनूठा मंच है। इसका उद्देश्य नई प्रतिभाओं और उभरते कलाकारों को प्रोत्साहित करना और उनकी सराहना करना तथा पेशेवर विकास और भारतीय कला के उस्तादों के साथ बातचीत के अवसर प्रदान करना है। इस वर्ष 'झंकृति' ने कला के चार क्षेत्रों को मंच प्रदान किया है जिसमें गायन (शास्त्रीय/अर्ध-शास्त्रीय गायन), वादन (वाद्य/वाद्य), नृत्य (शास्त्रीय नृत्य रूप), और नाट्य (थिएटर) हैं। इस वर्ष झंकृति2023 प्रतियोगिता म...
हिमालय और भृगुगंगा से आप्त भिलंगना क्षेत्र का पौराणिक महत्त्व

हिमालय और भृगुगंगा से आप्त भिलंगना क्षेत्र का पौराणिक महत्त्व

दिल्ली-एनसीआर
हिमांतर ब्यूरो, नई दिल्ली अध्यात्म, तप साधना,दिव्य स्थलों और संस्कृत ज्ञान के लिए प्रसिद्ध भिलंगना घाटी से पहाड़ के गांधी इंद्रमणि बडोनी जी भी इन्हीं गुणों से आकर्षित हुए होंगे. उत्तराखंड सरकार के संस्कृत प्रसार कार्यक्रमों में जब मुझे यहां जाने का सौभाग्य मिला तो वहां के विराट सौंदर्य सत और सकारात्मक परिवेश को देखकर मैं भी अभिभूत हुआ हूं. आज खुशी हो रही है जब यहां भिलंगना क्षेत्र विकास समिति के माध्यम से वहां के नौनिहाल उस एक पावन घाटी ही नहीं, बल्कि देवभूमि के सात्त्विक प्रतिरूप को भी प्रदर्शित कर रहे हैं. ये विचार भिलंगना क्षेत्र विकास समिति द्वारा नई दिल्ली के झंडेवालान स्थित बद्रीनारायण धाम गढ़वाल भवन में आयोजित भिलंगना घाटी महोत्सव -2023 में मुख्य अतिथि के रूप में संस्कृत के जाने माने शीर्ष विद्वान श्री श्रीकृष्ण सेमवाल ने व्यक्त किए. समारोह के अतिविशिष्ट अतिथि डॉक्टर गोस्व...
उत्तराखंड: स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत को टाटा मेमोरियल अवार्ड

उत्तराखंड: स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत को टाटा मेमोरियल अवार्ड

दिल्ली-एनसीआर
नई दिल्ली/देहरादून :  स्वास्थ्य विभाग उत्तराखंड को सोमवार को नई दिल्ली स्थित इंडिया हैबिटेट सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में प्रतिष्ठित ‘जेआरडी टाटा मेमोरियल अवार्ड’ से नवाजा गया। यह अवार्ड उत्तराखंड को 42 विभिन्न स्वास्थ्य सूचकांकों में देश भर में बेहतर प्रदर्शन के लिए दिया गया जिसे चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने स्वयं ग्रहण किया। उन्होंने कहा कि अवार्ड मिलने से स्वास्थ्य विभाग के कार्मिकों का मनोबल बढ़ने के साथ ही उनमें एक नई ऊर्जा का संचार भी होगा, जिससे भविष्य में स्वास्थ्य के क्षेत्र में राज्य में और बेतहर कार्य किये जा सकेंगे। नई दिल्ली में आयोजित जेआरडी टाटा मेमोरियल अवार्ड समारोह के मौके पर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन में प्रदेश सरकार विभिन्न योजनाओं से आम जनमानस को स्वास्थ्...
भिलंगना क्षेत्र विकास समिति दिल्ली में मनाएगी भिलंगना घाटी महोत्सव

भिलंगना क्षेत्र विकास समिति दिल्ली में मनाएगी भिलंगना घाटी महोत्सव

दिल्ली-एनसीआर
नई दिल्ली. उत्तराखंड के टिहरी जिले के भिलंगना ब्लॉक के साथ दिल्ली में रह रहे प्रवासियों के कल्याण हेतु स्थापित भिलंगना क्षेत्र विकास समिति सतत प्रयत्नशील है। अपनी गौरवमय स्थापना के 28 वें वर्ष में समिति राजधानी दिल्ली में रविवार,31 दिसंबर 2023 को दोपहर 1.30 बजे से भव्य 'भिलंगना घाटी महोत्सव का आयोजन करने जा रही है। इस समारोह में जहां विशिष्ट योगदान देने वाली प्रतिभाओं और 70 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों को भिलंगना गौरव सम्मान से सम्मानित किया जाएगा। इसके साथ ही समारोह में सांस्कृतिक प्रस्तुतियां,गढ़वाली भाषा काव्य पाठ, भिलंगना घाटी के छात्र-छात्राओं द्वारा ऐतिहासिक 'जीतू बगड्वाल नृत्य-नाटिका की प्रस्तुति और बाल प्रतिभाओं के लिए विभिन्न प्रतियोगिताएं और सामूहिक भोज प्रमुख आकर्षण होंगे। अपनी ढाई दशक की गौरवमय यात्रा में समिति ने लक्ष्य रखा है कि भिलंगना प्रखंड की सभी घाटियों और पट्...
रैबार-5 : सरकार सैनिकों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध : सीएम धामी

रैबार-5 : सरकार सैनिकों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध : सीएम धामी

दिल्ली-एनसीआर
उत्तराखंड की तीन हवाई पट्टियों को टेकओवर करेगी सेना : CDS अनिल चौहान नई दिल्ली स्थित इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में शनिवार को रैबार कार्यक्रम हुआ. जिसमें उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, महाराष्ट्र के पूर्व राज्यपाल और वरिष्ठ बीजेपी नेता भगत सिंह कोश्यारी, सीडीएस अनिल चौहान, बीजेपी नेता अनिल बलूनी, स्वर्गीय जनरल बिपिन सिंह रावत की बेटी तारिणी रावत, पूर्व लेफ्टिनेंट जनरल अनिल भट्ट और केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी, एनटीआरओ के पूर्व प्रमुख अनिल धस्माना, वाईस एडिमिरल संदीप नैथानी, एनडीएमए मेंबर राजेंद्र सिंह, ओएनजीसी की डारेक्टर सुषमा रावत सहित कई गणमान्य शख्सियतों ने शिरकत की और मंच से अपने विचारों को साझा किया. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उत्तराखंड के विकास का महायज्ञ जारी है. उन्होंने कहा कि भगवान से प्रार्थना...
उत्तरांचल भ्रात्रि सेवा संस्थान दिल्ली (पंजी.) का छठा वार्षिक महोत्सव का सफलता पूर्वक सम्पन्न

उत्तरांचल भ्रात्रि सेवा संस्थान दिल्ली (पंजी.) का छठा वार्षिक महोत्सव का सफलता पूर्वक सम्पन्न

दिल्ली-एनसीआर
उत्तरांचल भ्रात्रि सेवा संस्थान दिल्ली (पंजी.) का छठवां वार्षिक महोत्सव कार्यक्रम प्यारेलाल भवन में धूमधाम के साथ रविवार 19 नवम्बर 2023 को सम्पन्न हुआ। जिसमें उत्तरांचल भ्रात्रि सेवा संस्थान के बुराड़ी, विनोद नगर, हरदेवपुरी मौजपुर, मोहन गार्डन नजफगढ़, इंद्रापुरम वैशाली, गेवाड़ घाटी मासी एवं खजूरी खास सहित सभी सातों शाखाओं के सेवा मित्रों का सहयोग रहा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि महोदय जी द्वारा दीप प्रज्ज्वलित करने के बाद विशिष्ट अतिथियों एवं प्रतिष्ठित लोगों का स्मृति चिन्ह भेंट करके सम्मान एवं उत्तराखंडी कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किये गये। कार्यक्रम में समाज के प्रबुद्ध बुद्धिजीवी एवं प्रतिष्ठित व्यवसाईयों का भी स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया। कार्यक्रम में दिल्ली NCR से कई संसथाओं के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं, उत्तराखंड समाज के अनुयाई एवं उत्तरांचल भ्रात्रि सेवा स...
उत्तराखंड नाट्य महोत्सव में ‘राजुला मालूशाही’ का मंचन

उत्तराखंड नाट्य महोत्सव में ‘राजुला मालूशाही’ का मंचन

दिल्ली-एनसीआर
गढ़वाली कुमाऊनी व जौनसारी अकादमी- दिल्ली सरकार के तत्वावधान में आयोजित दो दिवसीय "उत्तराखंड नाट्य महोत्सव" का समापन आज मुक्तधारा सभागार, बंग संस्कृति भवन गोल मार्केट, नई दिल्ली में 29 अक्टूबर 2023 को देर रात्रि सम्पन्न हुआ। दो दिवसीय उत्तराखंड नाट्य महोत्सव में 4 नाटिकाओं का मंचन किया गया। पहले दिन नाटक 'आछरी' व 'राजुला मालूशाही' का मंचन हुआ व दूसरे दिन नाटक 'सरकारी ब्यौला' व 'सातों आठों' की प्रस्तुति हुई। नाट्य महोत्सव के पहले दिन 'मोहन उप्रेती लोक संस्कृति कला एवम विज्ञान शोध समिति' के 'लोकरंग टीम' द्वारा 'राजुला मालूशाही' नाटक की प्रस्तुति हुई। खचाखच भरे सभागार में नाटक को दर्शकों की खूब वाहवाही मिली। नाटक का निर्देशन मीना पांडेय ने किया। नाटक के निर्देशक मीना पांडेय ने बताया कि सन् 1980 में मोहन उप्रेती जी ने उत्तराखण्ड लोक गाथा के मंचन की परंपरा की शुरुआत की। आज 40 दशक बाद हम देख ...
दिल्ली पहुँचा उत्तराखण्ड से भेजे गए “अमृत कलश यात्रा” का दल

दिल्ली पहुँचा उत्तराखण्ड से भेजे गए “अमृत कलश यात्रा” का दल

दिल्ली-एनसीआर
नई दिल्ली: “मेरी माटी मेरा देश” अभियान के अन्तर्गत उत्तराखण्ड से भेजे गए अमृत कलश यात्रा का दल रविवार प्रातः दिल्ली पहुँचा। इस अवसर पर स्थानीय आयुक्त अजय मिश्रा, भारत सरकार, संस्कृति विभाग और स्थानीय आयुक्त कार्यालय, उत्तराखंड सरकार के प्रतिनिधियों ने विधिवत पूजा पाठ के साथ दल का स्वागत किया। “अमृत कलश यात्रा“ में देवभूमि के सुदूरवर्ती अंचलों के 95 विकासखण्डों व 101 नगर – निकायों से 192 तथा नेहरू युवा केंद्र से 166 स्वयंसेवक उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व करेंगे। यह कलश यात्रा अमर शहीदों के त्याग एवं बलिदान याद रखने के उद्देश्य से संपूर्ण देशभर में “मेरी माटी मेरा“ देश महाभियान के अंतर्गत चलाई जा रही है। इस यात्रा के तहत अमर शहीदों की जन्मभूमि की मिट्टी को अमृत कलश में दिल्ली स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक तक पहुंचाया जा रहा है। अमृत कलश यात्रा के तहत देशभर से 7500 कलशों में आने वाली मिट्टी और पौ...
हमास-इजरायल विवाद में नहीं किया जा सकता आंतकी संगठन का समर्थन

हमास-इजरायल विवाद में नहीं किया जा सकता आंतकी संगठन का समर्थन

दिल्ली-एनसीआर
हिमांतर ब्यूरो, नई दिल्ली दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रतिष्ठित पीजीडीएवी कॉलेज में "इज़रायल-हमास विवाद, इतिहास और समाधान" विषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस आयोजन में वक्ता के रूप में रक्षा विशेषज्ञ कमर आगा और अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ अतुल अनेजा ने विषय पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला। कॉलेज की प्राचार्य प्रो. कृष्णा शर्मा ने विषय प्रवर्तन करते हुए हमास द्वारा इज़रायल पर किए गए हमले को शांति विश्वभर में शांति के मूल्य पर दाग बताया। आगे उन्होंने कहा कि हमें शांति के लिए शक्ति का सही प्रयोग करना चाहिए। अतुल अनेजा ने इस विवाद का कारण खाड़ी देशों और मध्य एशिया में हो रहे सत्ता परिवर्तन के संघर्ष को माना, साथ ही इस्लामिक जगत में नेतृत्व का भी यह एक संघर्ष है, जिसमें ईरान अपना वर्चस्व स्थापित करना चाहता है। इसी संदर्भ में इस विवाद को देखा जा सकता है। वहीं कमर आगा ने अपनी बात रखते हुए...