उत्तरकाशी

खुशखबरी: रवांई के लाल चंद्रभूषण बिजल्वाण का श्रेष्ठ शिक्षक के लिए चयन

शिक्षक दिवस पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी करेंगे सम्मानित

  • नीरज उत्तराखंडी, पुरोला उत्तरकाशी

राजकीय आदर्श उच्च प्राथमिक विद्यालय पुजेली खलाड़ी में प्रधानाध्यापक व गणित-विज्ञान के शिक्षक चंद्रभूषण बिजल्वाण का चयन श्रेष्ठ शिक्षक सम्मान के लिए हुआ है. बिजल्वाण को because यह सम्मान शिक्षक दिवस,5 सितंबर को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी देहरादून में देकर सम्मानित करेंगें.

ज्योतिष

चंद्रभूषण बिजल्वाण को यह सम्मान गांव के गरीब छात्रों के पठन पाठन को लेकर अभिनव प्रयोगों से गाँव के होशियार प्रतिभावान दर्जनों छात्र -छात्राओं के प्रति समर्पित होकर स्कूल सहित because अपने घर में भी अतिरिक्त पढ़ाई की अलख जगाने का प्रयास है.

ज्योतिष

गौरतलब है कि चंद्रभूषण बिजल्वाण because आज ही नहीं पूर्व में भी  उच्च प्राथमिक  विद्यालय सुनाली व विभिन्न विद्यलयों में तैनात थे तब भी अपने आसपास के आधा दर्जन गरीब बच्चों को अपने साथ अपने निजी व्यवस्थाओं से विद्यालय में ले जाकर पढ़ाते रहे हैं.

ज्योतिष

वही वर्तमान में अपने विद्यालय के लिए बाजार के आसपास  के गांव से आने वाले गरीब छात्रों के लिए निजी व्यवस्था पर गाडी लगा रखी है जिसका पन्द्रह हजार प्रति माह स्वयं वहन because करते हैं साथ ही विद्यालय व घर में भी स्वयं पठन- पाठन सामग्री किताब,कापी,पेंसिल देकर अतिरिक्त समय पर अपने घर पर भी पढातें हैं. अपने छात्रों एवं शिक्षा के प्रति जागरूक  छात्रो को पठन पाठन समग्री देते रहते हैं.

ज्योतिष

यही कारण है कि चंद्रभूषण because बिजल्वाण को छात्रों के अध्यापन के प्रति समर्पित भावना के लिए गवर्नर एवार्ड समेत कई पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है.

ज्योतिष

चंद्रभूषण बिजल्वाण की विशेष रूची छात्रों में विज्ञान

गणित,पर्यावरण संरक्षण एवं जैविक खेती के प्रति उत्साह व जागरूकता लाने की पहल करना है जिसके जरिये छात्रों में स्थानीय उत्पादन जैसे लाल चावल, मंडुवा, चौलाई, झंगोरा, because कौणी, कुलथ, स्थानीय जड़ी-बूटियों आदि कई औषधीय गुणों से भरपूर पारम्परिक फसलों व जैविक खेती के प्रति छात्र-छात्राओं में जागरूकता लाकर वैज्ञानिक शोध के प्रति जागरूक करना है. चंद्रभूषण बिजल्वाण को श्रेष्ठ शिक्षक सम्मान के लिए चयन होने पर संगठन के विनोद रतूड़ी, मनोहर पंवार, सरस्वती देवी आदि शिक्षा विभाग के अधिकारियों, अध्यापकों ने खुशी जताकर बतौर कुशल शिक्षक उनकी सराहना की.

Share this:

Himantar Uttarakhand

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *