उत्तरकाशी

मोरी ब्लाक में हिम तेंदुआ संरक्षण केन्द्र बनाये जाने की कवायद शुरू

नीरज उत्तराखंडी, पुरोला

उच्च हिमालयी क्षेत्रों में दिखाई देने वाले स्नो लैपर्ड को संरक्षित करने के लिए उत्तरकाशी के गोविन्द वन्य जीव विहार  एवं पार्क क्षेत्र में  स्नो लैपर्ड कन्जर्वेशन सेण्टर बनाये जाने की कवायद चल रही है. because यदि सब कुछ योजना के मुताविक हुआ तो हरकीदून घाटी में बदहाल पड़ा गढ़वाल मंडल विकास निगम के भवन को संरक्षित कर  हिम देंदुआ संरक्षण केन्द्र में तब्दील किया जायेगा .इस हिम तेंदुआ संरक्षण केंद्र में इस बेहद शर्मीले माने जाने वाले जानवर के बारे में तो जानकारी मिलेगी ही साथ ही पर्यटन में चार चांद लगेंगे और  इससे स्थानीय लोगो को रोज़गार भी मिलेगा.

ज्योतिष

योजना को साकार रूप देने के लिए because पार्क प्रशासन ने निदेशक वन संरक्षक राजाजी पार्क रिजर्व देहरादून को पत्राचार किया. यदि अनुमति मिली तो जीएमवीएन का बदहाल भवन के दिन बहुरेंगे और वहां हिम देंदुआ संरक्षण केन्द्र स्थापित होगा.

ज्योतिष

उत्तरकाशी जिले  मोरी ब्लाक में स्थित गोविन्द वन्य जीव विहार एवं पार्क (Govind Pashu Vihar National Park) क्षेत्र में सिक्योर हिमालयन प्रोजेक्ट के तहत स्नो लैपर्ड कंज़र्वेशन इको टूरिज्म सेण्टर बनाये जाने की  योजना पर because पार्क प्रशासन  तेजी से काम  कर रहा है.. इस प्रोजेक्ट के तहत उच्च हिमालयी क्षेत्र सहित  गोविंद  जीव विहार में विचरण करते हुए स्नो लेपर्ड के बारे में जानकारी को पर्यटकों के साथ साझा किया जायेगा.

ज्योतिष

गोविंद वन्य जीव विहार के because उप निदेशक कोमल सिंह ने बताते है कि योजना को मूर्त रूप देने की कवायद चल रही है यदि सब कुछ योजना के मुताविक हुआ तो इस कंज़र्वेशन सेण्टर में स्थानीय संस्कृति और पर्यटन से जुडी हुई तमाम गतिविधियॉ भी दर्शाई जाएगी. पर्यटकों को स्नो लैपर्ड के निवास स्थल के पारिस्थितिक तंत्र के बारे में भी बताया जायेगा.

Share this:

Himantar Uttarakhand

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *