समसामयिक

योगी आदित्यनाथ फिर नंबर वन…

योगी आदित्यनाथ फिर नंबर वन…

‘शिखर पर उत्तराखंडी टॉप-50’ वार्षिक रैंकिंग जारी

  • हिमांतर ब्‍यूरो, देहरादून

उत्तराखंड के बेटे-बेटियां किस तरह देश के अलग-अलग हिस्से में अलग-अलग पदों पर रहते हुए महती भूमिका निभा रहे हैं, यह समूचा विश्व देख रहा है. आज राजनीति और कूटनीति, रक्षा और सुरक्षा, गीत-संगीत, कला, योग पर्यावरण, साहित्य और सेवा, हर क्षेत्र में पहाड़ के सपूत सफलता के नए प्रतिमान स्थापित कर रहे हैं. हिल-मेल पत्रिका ने पहाड़ के ऐसे ही सपूतों पर आधारित अपनी वार्षिक ‘शिखर पर उत्तराखंडी टॉप-50’ रैंकिंग जारी कर दी है.

उत्तराखंडी

यह सिलसिला देश की राजनीति के फलक पर तेजी से चमक बिखेर रहे यूपी के मुख्यमंत्री और पौड़ी के बेटे योगी आदित्यनाथ, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ बनाए गए जनरल बिपिन रावत, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, अनिल बलूनी से होता हुआ कई ऐसे लोगों तक जाता है, जिन्होंने अपने कार्य से लोगों के मन मस्तिष्क को प्रभावित किया है.

उत्तराखंडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सलाहकार भास्कर खुल्बे हों या समाज सेवा का पर्याय बन चुकी मंगला माता हों, एनडीएमए के सदस्य राजेंद्र सिंह हों, देश सेवा और समाजसेवा के प्रतीक कर्नल अजय कोठियाल हों या सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष और प्रख्यात गीतकार प्रसून जोशी. सभी की कहानी कमोबेश एक जैसी तो है, सभी ने संघर्षों के लंबे दौर से गुजरते हुए शीर्ष मुकाम हासिल किया है.

उत्तराखंडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सलाहकार भास्कर खुल्बे हों या समाज सेवा का पर्याय बन चुकी मंगला माता हों, एनडीएमए के सदस्य राजेंद्र सिंह हों, देश सेवा और समाजसेवा के प्रतीक कर्नल अजय कोठियाल हों या सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष और प्रख्यात गीतकार प्रसून जोशी. सभी की कहानी कमोबेश एक जैसी तो है, सभी ने संघर्षों के लंबे दौर से गुजरते हुए शीर्ष मुकाम हासिल किया है. यह विशेषांक हर क्षेत्र में अपना लोहा मनवाने वाले पहाड़ के सपूतों को समर्पित है.

उत्तराखंडी

ये रहे टॉप-10 उत्तराखंडी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक बार फिर सबसे चर्चित उत्तराखंडियों की सूची में शीर्ष पायदान पर हैं. दूसरे नंबर पर देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल हैं. तीसरे पायदान पर सीडीएस बनाए गए जनरल बिपिन रावत हैं. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को इस सूची में चैथा स्थान मिला है. पांचवें नंबर पर शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक हैं. वहीं छठे स्थान पर आध्यात्मिक गुरुमाता और हंस फाउंडेशन की संस्थापक माताश्री मंगला हैं.

उत्तराखंडी

उत्तराखंडी

भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी और उत्तराखंड से राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी को इस सूची में सातवां स्थान मिला है. आठवें नंबर पर महाराष्ट्र और गोवा के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सलाहकार भास्कर खुल्बे को इस सूची में नौंवा और एनडीएमए के सदस्य राजेंद्र सिंह को दसवां स्थान मिला है. 11वें पायदान पर गीतकार प्रसून जोशी और 12वें स्थान पर समाजसेवी और यूथ फाउंडेशन के संस्थापक कर्नल (रिटा.) अजय कोठियाल हैं.

उत्तराखंडी

सफलता और बुलंदियों पर पहुंचे उत्तराखंडियों की सूची बहुत लंबी है. शीर्ष 50 में ऐसे लोग शामिल हैं, बीते एक साल के दौरान कुछ ज्यादा चर्चा में रहे. हालांकि यह सूची अंतिम नहीं है, यह तो महज सिलसिले की शुरुआत है, जो साल-दर-साल आगे बढ़ता जाएगा. जिन 50 लोगों ने इस सूची में स्थान पाया है वह इस प्रकार हैं.

उत्तराखंडी

1. योगी आदित्यानाथ, मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश
2. अजीत डोभाल, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार
3. जनरल बिपिन रावत, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस)
4. त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्यमंत्री, उत्तराखंड
5. डा. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री
6. माताश्री मंगला, धर्म गुरू एवं समाज सेवी
7. अनिल बलूनी, राज्यसभा सांसद, बीजेपी
8. भगत सिंह कोश्यारी, राज्यपाल, महाराष्ट्र
9. भास्कर खुल्बे, प्रधानमंत्री के सलाहकार
10. राजेंद्र सिंह, सदस्य, एनडीएमए
11. प्रसून जोशी, गीतकार एवं प्रमुख सेंसर बोर्ड
12. कर्नल (रिटा.) अजय कोठियाल, समाजसेवी एवं संस्थापक यूथ फाउंडेशन
13. राजेश भूषण विंजवाल, स्वास्थ्य सचिव, भारत सरकार
14. अनिल धस्माना, चेयरमैन, एनटीआरओ
15. एडमिरल (रिटा.), डीके जोशी, उपराज्यपाल अंडमान निकोबार
16. हरीश रावत, पूर्व मुख्यमंत्री, उत्तराखंड एवं राष्ट्रीय महासचिव, कांग्रेस
17. प्रदीप सिंह खरोला, सचिव, नागर विमानन मंत्रालय
18. प्रीतम सिंह, अध्यक्ष, उत्तराखंड कांग्रेस
19. नरेंद्र सिंह नेगी, लोक गायक एवं गीतकार
20. पदमश्री बसंती बिष्ट, जागर गायिका
21. शौर्य डोभाल, निदेशक, इंडिया फाउंडेशन
22. डा. धन सिंह रावत, उच्च शिक्षा मंत्री, उत्तराखंड
23. ले. जनरल अनिल चैहान, जीओसी-इन-सी, पूर्वी कमान
24. ले. जनरल (रिटा.) राजेश पंत, एनसीएससी
25. अश्विनी लोहारी, सीईओ, जीएमआर गु्रप
26. उर्वशी रौतेला, अभिनेत्री एवं माॅडल
27. श्रृषभ पंत, क्रिकेटर
28. दीपक डोबरियाल, फिल्म अभिनेता
29. राघव जुयाल, अभिनेता एवं कोरियाग्राफर
30. जुबिन नौटियाल, बॉलीवुड गायक
31. डा. मनमोहन सिंह चैहान, निदेशक, एनडीआरआई, करनाल
32. प्रोफेसर एपी डिमरी, पर्यावरण विज्ञानी, जेएनयू
33. वीके गौड़, सीएमडी, राष्ट्रीय बीज निगम
34. डा. विजय धस्माना, वीसी, रामा स्वामी हिमालयन यूनिवर्सिटी
35. डाॅ. कमल घनसाला, अध्यक्ष, ग्राफिक एरा समूह
36. रस्किन बांड, प्रख्यात लेखक
37. सुश्री बछेंद्री पाल, पर्वतारोही
38. एयर मार्शल एमएस बुटोला, डीजीएमएस (एयरफोर्स)
39. राधा रतूड़ी, अपर मुख्य सचिव, उत्तराखंड
40. मंगेश घिल्डियाल, डेप्यूटी सेके्रटरी, पीएमओ
41. धीरज सिंह गब्र्याल, डीएम, पौड़ी गढ़वाल
42. कलानिधि नैथानी, एसएसपी, गाजियाबाद
43. भूपेंद्र कैंथोला, निदेशक, एफटीआईआई, पुणे
44. केएस पंवार, औद्योगिक सलाहकार, सीएम उत्तराखंड
45. टीसी उप्रेती, गु्रप प्रेसीडेंट, बजाज समूह
46. मनोज रावत, एडीजी, पश्चिमी कमान, आईटीबीपी
47. स्वामी वीरेंद्रानंद, संस्थापक, एशियन सत्कर्मा मिशन
48. राज भट्ट, सीईओ, इलारा कैपिटल
49. विनोद बछेती, चेयरमैन, डीपीएमआई
50. कल्याण सिंह रावत, संस्थापक, मैती आंदोलन

Share this:
About Author

Himantar

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

1 Comment

    वाह! हमारे उत्तराखंड का गौरव हैं हमारे माननीय #योगीजी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *