November 26, 2020
Home Posts tagged हवेली
किस्से/कहानियां

परिपक्वता

डॉ अमिता प्रकाश “मैडम, आज रोहिणी आ रही है.” सुनीता ने मुझसे कहा तो रोहिणी की अनेकों स्मृतियाँ कौंध उठीं. शादी के एक साल बाद रोहिणी अपने घर आ रही थी. अपना घर…? वह घर जहाँ उसने जन्म लिया था. वह घर जिसके आँगन में खेलकूद कर वह बड़ी हुयी थी. वह घर जिसकी कई […]