October 23, 2020
Home Posts tagged नहॉ
संस्मरण

सूखे नहॉ बिन जीवन सूखा

मेरे हिस्से और पहाड़ के किस्से भाग—12 प्रकाश उप्रेती हम इसे ‘नहॉ’ बोलते हैं. गाँव में आई नई- नवेली दुल्हन को भी सबसे पहले नहॉ ही दिखाया जाता था. शादी में भी लड़की को नहॉ से पानी लाने के लिए एक गगरी जरूर मिलती थी. अपना नहॉ पत्थर और मिट्टी से बना होता था. एक […]