Home Posts tagged खतडू
लोक पर्व-त्योहार

पशुधन की कुशलता और समृद्धि का लोकपर्व

प्रकाश उप्रेती आज खतडू है. ठंड आरम्भ होने की सूचना देने वाला यह त्योहार गोठ-गुठयार से लेकर खेत- खलिहानों तक की सुख-समृद्धि का द्योतक है. ईजा भी कहती थीं- “खतडूक बाद च्यला जाड़ होने गोय” because (खतडू के ठंड होती गई). मैं, आज भी इसके इसी संदर्भ से वाकिफ हूँ कि खतडू ऋतु परिवर्तन और