• नीरज उत्तराखंडी, पुरोला

कोविड-19 व्यवस्थाओं के जनपद प्रभारी एवं गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग, भाषा तथा पुनर्गठन राज्य मंत्री यतीश्वरानंद ने आज दूसरे दिन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ब्रह्मखाल, बड़कोट, नौगाँव व पुरोला में  कोविड-19 से निपटने के लिए की गई व्यवस्थाओं का स्थलीय निरीक्षण कर जायजा लिया.  निरीक्षण के दौरान because पूर्व जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मण भंडारी ने विधायक  केदार सिंह रावत के माध्यम से अतरिक्त सामुदायिक स्वास्थ्य  केंद्र ब्रह्मखाल के उच्चीकरण को लेकर  पत्र सौंपा. जिस पर मंत्री द्वारा सीएमओ को तत्काल प्रस्ताव शासन में भेजने के निर्देश दिए.

कोविड

उन्होंने सीएमओ को निर्देशित because करते हुए कहा कि जनपद उत्तरकाशी के जिला अस्पताल के अतिरिक्त सभी सीएचसी में 50-50 ऑक्सीजन बैड व पीएचसी में 10-10 ऑक्सीजन बैड तैयार कर लिए जाय.  ताकि सुदूरवर्ती गांव स्तर के लोगों को जिला अस्पताल ना आने पड़ें.

कोविड

जनपद में ऑक्सीजन सिलेंडर की पर्याप्त उपलब्धता बनी रहे इस हेतु जिलाधिकारी व स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया गया है. दवाई इत्यादि की कालाबाजारी न हो इस हेतु because निरीक्षण करने के निर्देश दिये गए है. किसी भी व्यक्ति की संसाधन के अभाव में मृत्यु ना हो स्पष्ट निर्देश दिए गए है. महामारी को देखते हुए शादी विवह समारोह में भीड़ एकत्र नही करने की अपील की गई. गाइडलाइन का सख्ती से अनुपालन कराने के निर्देश एसडीएम को दिए. पुलिस व पटवारियों से निरीक्षण कराने को कहा. आंगनबाड़ी व आशाओं  से गांव में आयोजित होने वाली शादियों की सूचना दैनिक रूप से ली जाय.

कोविड

बड़कोट में आईसीयू बैड/ वेंटिलेटर को because संचालित करने हेतु आउटसोर्स के माध्यम से टेक्नीशियन व अस्पताल में सफाई कर्मियों की तैनाती करने के निर्देश सीएमओ को दिये. बड़कोट में तैनात कॉर्डियक एम्बुलेंस को देहरादून से वापस मंगाने को कहा गया. नौगाँव में स्टॉफ नर्स के लिए आवसीय भवन को बनाने के निर्देश दिए.

कोविड

सीएचसी पीएचसी में यदि because ऑक्सीजन बैड बढ़ाने की क्षमता नही है तो सरकारी स्कूल, कालेज/होटल को अधिकृत किया जाय. ताकि हम जनता को इस महामारी में सुविधा दे सकें. इस हेतु सरकार की ओर से धन की कतई भी कमी नही है. मानव जीवन बचाने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाय. स्टॉफ नर्स,डॉक्टर्स जिन्होंने कोर्स किया है और बेरोजगार है उन्हें रोजगार से जोड़ने के निर्देश दिए.

कोविड

ग्रामीण इलाकों में बुखार खांसी की जांच के लिए सेमलिंग टीम को भेजा जाए. प्रवासियों की बॉडर पर ही टैस्टिंग करें,जब तक उनकी जांच रिपोर्ट नही आती तब तक उनकी because रहने की व्यवस्था वहीं करने के निर्देश दिए. जनपद में वेक्सीन की कमी नही है. दूरस्थ क्षेत्रों में जहां वाहन जाने की सुविधाएं है वहां टीम भेजकर वेक्सीन के कार्यों में तेजी लाने को कहा. इस दौरान मंत्री व विधायक द्वारा आराकोट, पुरोला, बड़कोट के लिए एम्बुलेंस की सौगात दी तथा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

कोविड

निरीक्षण के दौरान यमुनोत्री because विधायक केदार सिंह रावत, पुरोला विधायक राजकुमार, जिलाध्यक्ष भाजपा रमेश चौहान, जिला पंचायत संगठन प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप भट्ट, प्रदेश मीडिया प्रभारी भाजपा मनवीर चौहान, जिला महामंत्री सत्येन्द्र सिंह राणा, श्याम डोभाल, अपर जिलाधिकारी तीर्थपाल सिंह, सीएमओ डॉ डीपी जोशी, एसडीएम चतर सिंह चौहान, सोहन सैनी, सहित अन्य उपस्थित थे.

Share this:
About Author

Himantar

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *