अल्‍मोड़ा

पांच दिवसीय ‘शिक्षक पर्व’ में ऑनलाइन व ऑफलाइन व्यवस्था पर चर्चा

महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. जया पांडे की अध्यक्षता में पांच दिवसीय ‘शिक्षक पर्व’ समाप्त

अल्मोड़ा. राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कुणीधार, मानिला अल्मोड़ा (उत्तराखंड) के तत्वावधान में पांच दिवसीय ‘शिक्षक पर्व’ का आयोजन किया गया. पांच दिवसीय ‘शिक्षक पर्व’ के समापन सत्र की अध्यक्षता महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. जया पांडे द्वारा किया गया. अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में उन्होंने छात्रों से शिक्षा की ऑनलाइन व ऑफलाइन व्यवस्था पर विस्तार से चर्चा की. पाँच दिवसीय ‘शिक्षक पर्व’ कार्यक्रम के समापन सत्र के अंतर्गत वाद-विवाद प्रतियोगिता: ऑनलाइन एवं ऑफ़लाइन शिक्षा पक्ष/विपक्ष का आयोजन किया गया.

निर्णायक मंडल, डॉ. रेखा, असिस्टेंट प्रोफेसर, राजनीति विज्ञान, डॉ. रवीन्द्र कुमार मिश्रा, असिस्टेंट प्रोफेसर, संस्कृत, डॉ. धर्मेन्द्र यादव, असिस्टेंट प्रोफेसर, इतिहास द्वारा संक्षिप्त रूप से वाद-विवाद प्रतियोगिता के नियमों से छात्र-छात्राओं को परिचित कराया गया. प्रतियोगिता के समापन के उपरांत निर्णायक मंडल द्वारा प्रतिभागियों को निर्णय सुनाया गया एवं निर्णायक मंडल द्वारा प्रतिभागियों से उनकी कमियों व खूबियों पर भी चर्चा की गई.

पांच दिवसीय ‘शिक्षक पर्व’ प्रतियोगिता के अंतिम समापन सत्र में डॉ. जया पांडे, प्राचार्य, महाविद्यालय द्वारा प्रतियोगिताओं में विजेता छात्र वंदना (प्रथम), रश्मि (द्वितीय), प्रीति (तृतीय), रोहित(सांत्वना) वाद-विवाद प्रतियोगिता, रश्मि चौहान, हिमानी, पायल, हेमा (प्रथम), पूजा भाकुनी, संतोषी भट्ट (द्वितीय), सोनिया, रितिका(तृतीय), कुमारी नीतू, संजना(सांत्वना) रंगोली प्रतियोगिता एवं सीमा बिष्ट (प्रथम), हिमानी(द्वितीय), हरीश चंद्र एवं अंजनी(तृतीय) पोस्टर प्रतियोगिता को पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया. कार्यक्रम का संचालन व संयोजन डॉ भावना मासीवाल द्वारा किया गया.

इस कार्यक्रम में महाविद्यालय के शिक्षक डॉ. नरेंद्र कुमार जोशी, डॉ. शैफाली सक्सेना, डॉ. रेखा, डॉ. गार्गी लोहिनी, डॉ. संतोष पंसारी, डॉ. भावना अग्रवाल, डॉ. शिल्पी अग्रवाल सहित समस्त कर्मचारी व छात्र छात्राएं उपस्थित रहे.

Share this:

Himantar Uttarakhand

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *