देश—विदेश समसामयिक

अनुराग ठाकुर की सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा देश भर के तमाम सांसदों के लिए प्रेरणा

अरविन्द मालगुड़ी

देव भूमि हिमाचल जहाँ के सुदूर पहाड़ी इलाकों में बसे तमाम गांवों के लोगों को अक्सर बीमार होने की स्थिति में मुश्किलों का सामना करना पड़ता था । अस्पताल तक पहुंचने में उन्हें कई तरह की परेशानियां पेश आती थी। इसी सार्थक सोच को मूर्त रूप मिला मई 2018 में जब वर्तमान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में शुरू की गई सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा जो आज पूरे हिमाचल के लिए मील का पत्थर बन चुकी है जिसका असल मकसद ग्रामीण इलाकों के मरीजों को अस्पतालों की भीड़ और परेशानी से निजात दिलवा कर घर-द्वार पर स्वास्थ्य लाभ देना है।

अनुराग ठाकुर जी के मन में ख्याल आया कि क्यों न कुछ ऐसा किया जाए कि अस्पताल को ही जरूरतमंदों के घरों तक लाया जाए और हिमाचल जैसे पहाड़ी राज्य की स्वास्थ्य सेवा को सुदृढ़ करने के लिए और दूर-दराज के कोने में मेडिकल सेवा की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए संसद मोबाइल स्वास्थ्य (एसएमएस) सेवा को जनता के लिए इस युवा नेता द्वारा लाया गया जो एक दूरदृष्टि वाला काम है जो सभी के लिए एक प्रेरणा है ।

इस सेवा से बड़ी संख्या में लाभार्थी लाभान्वित हुए हैं ।इस अभियान से सबसे अधिक लाभान्वित होने वाले वरिष्ठ नागरिक और महिलाएं हैं, जिन्हें अक्सर चिकित्सा सहायता लेने के लिए कहीं और यात्रा करने में कठिनाई होती है। इन चार वर्षों में इस मोबाइल स्वास्थ्य सेवा ने बिना किसी से एक रुपए लिए बिन पांच लाख से ज्यादा लोगों को निःशुल्क स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करवाई है कोरोना महामारी के कठिन दौर में ये सेवा अत्यंत उपयोगी साबित हुई । पूरे भारतवर्ष में इस तरह की पहल करने वाला हमीरपुर पहला संसदीय क्षेत्र बना।

इस मोबाइल स्वास्थ्य सेवा के तहत 17 विधानसभाओं के लिए एक-एक गाड़ी की व्यवस्था कर एंबुलेंस मॉडल में मोबाइल अस्पताल व्यवस्था शुरू की गई।हिमाचल जैसे पहाड़ी क्षेत्र से प्रारंभ की गई यह योजना आज पूरे देश में स्वास्थ्य क्रांति का रूप लेती जा रही है और एक रोल माडल बन सभी को प्रेरणा देने का कार्य कर रही है। योजना की सार्थकता के मायने यह हैं कि जनता को इसका कितना फायदा हुआ। भविष्य में भी जनहित के प्रयास जारी रहेंगे यही उम्मीद है ।गरीब ग्रामीणों के लिए सांसद अनुराग ठाकुर की यह पहल और सोच बेहतरीन मिसाल है ,अन्य किसी भी सांसद ने ऐसे कार्यक्रम की अभी तक शुरुआत नहीं की है और ये सेवा देश भर के तमाम सांसदों के लिए प्रेरणा का काम करेगी ।

Share this:

Himantar Uttarakhand

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *