ऑपरेशन सिलक्यारा: अंतिम दौर में रेस्क्यू, दूसरे जिलों में मंगवाई गई एंबुलेंस

0
11

उत्तरकाशी: सिलक्यारा टनल में फंसे 41 मजदूरों को बाहर निकालने के लिए चलाया जा रहा रेस्क्यू अंतिम दौर में है। देश की टॉप एजेंसियां इस काम में जुटी हैं। विदेशों से भी एक्सपर्ट को बुलाया गया है। माना जा रहा है कि आज देर रात या फिर कल तक सभी मजदूरों को बाहर निकाल लिया जाएगा। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

टनल में फंसे मजदूरों को बाहर निकालने का जिम्मा ONGC, SJVNL, RVNL, NHIDCL और THDC को सौंपी गई है। इसके अलावा सेना, NDRF और BRO भी मौके पर दिन-रात काम में जुटा है।

रेस्क्यू अभियान ने रफ्तार पकड़ ली है। प्रशासन भी अपनी अन्य तैयारी में जुट गया है। श्रमिकों को अस्पताल पहुंचाने के लिए पर्याप्त एंबुलेंस का भी इंतजाम किया जा रहा है। टिहरी और अन्य जनपदों से भी एंबुलेंस मंगाई गई है। उम्मीद जताई जा रही है कि आज रात या फिर कल सुबह 23 नवंरबर तक सभी मजदूरों को सकुशल बाहर निकाल लिया जाएगा।

सिलक्यारा-बड़कोट के बीच बन रही टनल में दीपावली के दिन 12 नवंबर से निर्माणाधीन सुरंग में फंसे 41 श्रमिकों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू कार्य लगातार जारी है। मजदूरों को बाहर निकालने के लिए जिस 800 MM व्यास के पाइप अंदर डाला जा रहा है। उसे अब तक करीब 32 मीटर तक मलबे में डाला जा चुका है। इससे उम्मीद लगाई जा रही है कि जल्द सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया जाएगा।

ऑपरेशन सिलक्यारा: अंतिम दौर में रेस्क्यू, दूसरे जिलों में मंगवाई गई एंबुलेंस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here