Home उत्तराखंड हलचल उत्तराखंड : पत्रकार की रिहाई के लिए सड़क पर उतरी महिलाएं

उत्तराखंड : पत्रकार की रिहाई के लिए सड़क पर उतरी महिलाएं

0
उत्तराखंड : पत्रकार की रिहाई के लिए सड़क पर उतरी महिलाएं

पौड़ी:  पत्रकार आशुतोष नेगी की रिहाई के लिए महिलाओं ने सड़क जाम कर दी। आशुतोष पर लगे आरोपों की निष्पक्ष जांच के साथ ही अंकिता भंडारी हत्याकांड के आरोपियों को सजा दिलाने कि मांग को लेकर आज महिलाएं सड़क पर उतरी। महिलाओं ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। गिरफ्तारी के खिलाफ शासन मीडिया में भी लोगों का गुस्सा देखने को मिला।

पत्रकार आशुतोष नेगी के खिलाफ अगरोड़ा निवासी राजेश सिंह राजा कोली ने जाति सूचक शब्द का प्रयोग कर धमकाने के आरोप में मुकदमा दर्ज करवाया था। शिकायतकर्ता लंबे समय से आशुतोष नेगी की गिरफ्तारी की मांग कर रहा था। पुलिस द्वारा एससी एसटी एक्ट मामले में आशुतोष नेगी की गिरफ्तारी की गई। जिस पर आशुतोष नेगी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

बताते चलें कि आशुतोष नेगी उत्तराखंड के चर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में अंकिता के परिजनों के साथ शुरू से ही खड़े थे। पत्रकार की गिरफ्तारी से गुस्साए क्षेत्र की ग्रामीण महिलाओं ने गुरुवार को पौड़ी श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर डोभ श्रीकोट के पास जाम लगा दिया। महिलाओं ने सड़क पर बैठकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

महिलाओं ने आरोप लगाया कि शासन प्रशासन द्वारा अंकिता हत्याकांड के आरोपियों के खिलाफ अभी तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है। वहीं अंकिता हत्याकांड के आरोपियों को सजा दिलवाने की लड़ाई में अंकिता के परिवार का साथ देने वाले आशुतोष नेगी के खिलाफ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है।

प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने अंकिता हत्याकांड के आरोपियों को सजा देने जाने की मांग की। इसके साथ ही ग्रामीण महिलाओं ने पत्रकार आशुतोष नेगी पर लगाए गए आरोपों पर साजिश का अंदेशा जताते हुए उनकी रिहाई के साथ ही मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here