हथियारबंद लुटेरों पर भारी पड़ा सर्राफा व्यापारी का साहस, मुठभेड़ में दो बदमाशों को लगी गोली

0
0

विकासनगर: निहत्थे सर्राफा व्यापारी का साहस तीन हथियारबंद लुटेरों पर भारी पड़ गया। विकासनगर के लक्ष्मणपुर क्षेत्र में लूट के इरादे से दुकान में घुसे बदमाशों से व्यापारी अकेले ही भिड़ गया। तकरीबन सात मिनट तक चली गुत्थमगुत्था के बाद अन्य व्यापारी एकत्र होने शुरू हुए तो बदमाश भागने लगे। इस बीच व्यापारी ने एक बदमाश को दबोच लिया, जबकि दो अन्य फरार हो गए। संघर्ष के दौरान बदमाशों ने व्यापारी पर तमंचे से फायर झोंका और मिस होने पर तमंचे की बट से चेहरे पर कई वार किए।

घायल होने के बाद भी व्यापारी ने हिम्मत नहीं हारी। इस घटना के बाद पुलिस ने नाकाबंदी कर फरार बदमाशों की तलाश शुरू की और आसन बैराज पर मुठभेड़ के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया। तीनों बदमाश उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के रहने वाले हैं। उनमें से एक 25 हजार रुपये का इनामी है। एसएसपी देहरादून अजय सिंह और एसपी देहात लोकजीत सिंह ने भी मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल की।

लक्ष्मणपुर स्थित बाजार में न्यू राणा ज्वेलर्स नाम से विकासनगर निवासी संजीव राणा की दुकान है। रविवार को वर्षा होने के कारण बाजार में अन्य दिनों की अपेक्षा कम भीड़ थी। शाम करीब छह बजे कंबल ओढ़े और मफलर से मुंह ढके तीन बदमाश संजीव की दुकान में दाखिल हुए और सोने की चेन दिखाने को कहा।

संजीव चेन निकालने लगे। इस बीच एक बदमाश ने काउंटर के दूसरी तरफ जाकर सेल्स गर्ल का गला पकड़ लिया और दूसरे ने संजीव के सिर पर तमंचा सटा दिया। लेकिन, संजीव जान की परवाह न करते हुए बदमाश से भिड़ गए। इस पर बदमाश ने फायर झोंक दिया, जो मिस हो गया।

इसके बाद बदमाश ने तमंचे की बट से व्यापारी के चेहरे पर कई वार किए, लेकिन वह पीछे नहीं हटे। इस बीच चीख-पुकार सुनकर आसपास के व्यापारी दुकानों से बाहर निकल आए। यह देख दो अन्य बदमाश भाग निकले, जबकि तीसरे को संजीव ने पकड़ लिया।

कुछ देर बाद सीओ भास्कर लाल शाह, कोतवाल राजेश साह, SSI संजीत कुमार और चौकी प्रभारी सनोज कुमार मौके पर पहुंचे। व्यापारियों ने पकड़े गए बदमाश नवीन सैनी निवासी धर्मपुरी कालोनी, सहारनपुर (उत्तर प्रदेश) को उनके हवाले कर दिया। पुलिस ने घायल व्यापारी को अस्पताल ले जाकर उपचार कराया और फिर दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली।

सर्राफा व्यापारी के यहां लूट के प्रयास के बाद हरकत में आई पुलिस ने पीड़ित की दुकान और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। साथ ही फरार बदमाशों की धरपकड़ के लिए बड़े स्तर पर चेकिंग शुरू की गई। इस बीच आसन बैराज पर पुलिस टीम की फरार बदमाशों के साथ मुठभेड़ हो गई, जिसमें दोनों गोली लगने से घायल हो गए। उन्हें उप जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। बदमाशों की पहचान जहांगीर और सुबोध उर्फ साहू निवासी सहारनपुर के रूप में हुई। जहांगीर 25 हजार का इनामी है, उसके विरुद्ध विभिन्न थानों में 21 मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस के अनुसार, तीनों बदमाश सहारनपुर कोतवाली मंडी में लूट के मामले में भी वांछित हैं।

पछवादून में अन्य प्रदेशों के बदमाशों की सक्रियता बढ़ी है। बीते वर्ष नवंबर में देहरादून स्थित रिलायंस ज्वेल्स के शोरूम में हुई डकैती के बाद भी पुलिस इस तरफ गंभीरता नहीं दिखा रही। इस वारदात के बाद सेलाकुई में सर्राफा व्यापारी के यहां चोरी हुई और अब विकासनगर में लूट का प्रयास किया गया। कुछ माह पहले हरबर्टपुर में पीएनबी की शाखा से पांच लाख रुपये निकालकर घर जा रहे किसान के साथ लूट हो गई थी। लेहमन पुल से आगे सरेराह बाइक सवार की हत्या कर दी गई। इन सभी घटनाओं में अन्य प्रदेशों के बदमाश शामिल पाए गए।

ताजा वारदात से नगर के व्यापारियों में गुस्सा है। व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष अमरजीत सिंह राजू, अजय धमीजा, वीरेंद्र बाबी समेत अनेक व्यापारी व रोटरी क्लब के पदाधिकारी मौके पर पहुंचे। पीड़ित संजीव राणा पूर्व में रोटरी दून विकास के अध्यक्ष रह चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here