उत्तराखंड : लेफ्टिनेंट कर्नल ने ‘सिंदूर’ के बदले दी मौत, आखिर क्यों कातिल बना सेना का अफसर?

0
15

उत्तराखंड : लेफ्टिनेंट कर्नल ने ‘सिंदूर’ के बदले दी मौत, आखिर क्यों कातिल बना सेना का अफसर?

देहरादून: कत्ल करने वाला कितना होशियार क्यों ना हो, कुछ ना कुछ ऐसे सबूत छोड़ जाता है, जिससे वह पकड़ा जाता है। संडे के दिन 11 सितंबर को रायपुर में सड़क किनारे एक युवती का शव मिला था, जिसका खुलासा देहरादून पुलिस ने महेश 24 घंटे के भीतर कर दिया। चौंकाने वाली बात यह है कि महिला का हत्यारा कोई आम आदमी नहीं, बल्कि सेना का एक अफसर निकला।

जिस लड़की का मर्डर किया गया, वह मूल रूप से नेपाल की बताई जा रही है, जो सिलीगुड़ी में बार डांसर थी। लेफ्टिनेंट कर्नल को बार में जाते-जाते बार डांसर से मोहब्बत हो गई और यह मोहब्बत शारीरिक संबंधों तक जा पहुंची।सिलीगुड़ी से देहरादून ट्रांसफर होने के बाद बार डांसर भी लेफ्टिनेंट कर्नल का पीछा करते हुए देहरादून आ पहुंची।

युवती की उम्र 25 से 30 वर्ष के बीच बताई जा रही है। युवती बार-बार लेफ्टिनेंट कर्नल रामेंदु उपाध्याय से पत्नी का दर्जा मांग रही थी। उपाध्याय ने 9 सितंबर की रात युवती को जान से मारने की योजना बनाई। पहले राजपुर में एक क्लब में शराब पिलाई और फिर रायपुर रोड पर लॉन्ग ड्राइव के बहाने ले गया।

रात करीब ग्यारह बजे के बाद लेफ्टिनेंट कर्नल उपाध्याय उपाध्याय ने अपनी कार में युवती के सिर पर हथौड़े से ताबड़तोड़ वार कर मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद शव को सड़क किनारे नाले में फेंक दिया।

लेफ्टिनेंट कर्नल उपाध्याय पिछले साल तक सिलीगुड़ी पश्चिम बंगाल में तैनात था। इस दौरान यहां बार डांसर श्रेया निवासी नेपाल के साथ उसकी जान पहचान हो गई। दोनों के बीच संबंध बने। लगातार मिलने जुलने लगे।

इसके बाद जब गत जुलाई में उपाध्याय की पोस्टिंग देहरादून हुई तो वह श्रेया को भी यहीं ले आया। पहले होटल में रखा और फिर फ्लैट किराए पर दिलाया। इस फ्लैट पर उपाध्याय भी आता जाता था। इसका पता उपाध्याय की पत्नी को चल गया था। इसी कारण उपाध्याय ने उसे जान से मारने की योजना बनाई थी।

उत्तराखंड : लेफ्टिनेंट कर्नल ने ‘सिंदूर’ के बदले दी मौत, आखिर क्यों कातिल बना सेना का अफसर?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here