उत्तराखंड : भू-माफिया का करनामा, जिंदा महिला को कागजों में मार डाला और बेच दी जमीन…

0
5

देहरादून: राजधानी देहरादून में भू-माफिया किसी भी हद तक जाने को तैयार रहते हैं। कसी की जमीन किसी को बेचने के मामले आए-दिन सामने आते रहते हैं। जमीनों के फर्जी दस्तावेज बनाकर जमीनों का बड़ा मामला पिछले दिनों सामने आया था। रजिस्ट्रार कार्यालय में दस्तावेजों से छेड़छाड़ कर जमीनों को खुर्द-बुर्द करने वाले गैंग का खुलासा हुआ था। मामले में की लोग जेल भी जा चुके हैं। बावजूद माफिया सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। 

ऐसा ही एक और मामला सामने आया है। फर्जी दस्तावेज तैयार कर भू-माफिया ने महिला को मृत दिखाकर उनकी जमीन किसी और को बेच डाली। मामले में राजपुर थाना पुलिस ने दो आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस को दी शिकायत में विशाल थापा निवासी लच्छीवाला ने बताया कि उनकी माता शीला थापा उर्फ शांति थापा के नाम पर जाखन में कुछ दुकानें हैं। कुछ दुकानें उनके नाम पर हैं जबकि कुछ में वह हिस्सेदार हैं।

शिकायतकर्ता ने बताया कि कुछ समय पहले उन्हें जानकारी मिली कि उनके मामा जगत थापा व महेश थापा ने आपसी मिलीभगत से दुकानों पर कब्जा करने के उद्देश्य से 27 मार्च 2006 को एक फर्जी वसीयत तैयार की। विक्रयपत्र एवं शपथपत्रों के आधार पर अन्य सहस्वामियो को धोखा देने के उद्देश्य से संयुक्त स्वामित्व की संपत्ति को उनकी माता शीला थापा को मृत दर्शाकर दुकानें शालिनी शाही एवं अमिताभ शाही विकासनगर को बेच दी।

आरोपितों ने फर्जी वसीयत में शिकायतकर्ता की माता शीला थापा को जून 1977 में मृत होना दर्शाया गया है, जबकि शीला थापा उर्फ शांति थापा आज भी जीवित हैं। राजपुर थानाध्यक्ष जितेंद्र चौहान ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दस्तावेजों की जांच की जा रही है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here