Home Posts tagged शंकराचार्य जयन्ती
साहित्‍य-संस्कृति

वेदान्त-प्रवक्ता आचार्य शंकर का अवदान  

शंकराचार्य जयन्ती के पर विशेष  प्रो. गिरीश्वर मिश्र ‘वेदान्त’ यानी वेदों का सार भारतीय चिंतन की एक वैश्विक देन है और उसके अद्वितीय पुरस्कर्ता आचार्य शंकर हैं जो  ब्रह्म  को’ एकमेवाद्वितीयम्’  मानते है. अर्थात ब्रह्म एक ही है. ब्रह्म से अलग कोई भी चीज  वास्तविक नहीं है. और ब्रह्म के भाग या