Home Posts tagged उत्तराखण्ड बांस एवं रेशा विकास परिषद
अभिनव पहल

उत्तराखण्ड में कण्डाली की खेती हो सकती है रोजगार का सशक्त साधन

लेख एवं शोध जे.पी. मैठाणी उत्तराखण्ड में प्रमुखतः दो प्रकार की कण्डाली पाई जाती है, 400 मीटर से 1400 मीटर तक की ऊँचाई तक उगने वाली सामान्य कण्डाली जिसे बिच्छू घास या बिच्छू बूटी भी कहते हैं। because डांस कण्डाली का वानस्पतिक नाम Girardinia heterophylla जिरार्डिनिया हैट्रोफाइला या Girardinia