Home उत्तराखंड हलचल ज्ञानवापी मामले में बड़ा फैसला, तहखाने में हिंदुओ को मिला पूजा का अधिकार

ज्ञानवापी मामले में बड़ा फैसला, तहखाने में हिंदुओ को मिला पूजा का अधिकार

0
ज्ञानवापी मामले में बड़ा फैसला, तहखाने में हिंदुओ को मिला पूजा का अधिकार

ज्ञानवापी केस में बड़ा फैसला सामने आया है। हिंदू पक्ष में कोर्ट ने फैसला सुनाया है। फैसले के मुताबिक, ज्ञानवापी तहखाने में हिंदुओ को पूजा का अधिकार मिल गया है। वकील विष्णु शंकर जैन ने कहा कि, जो जस्टिस केएम पांडे ने राम मंदिर का ताला खुलवाने का ऑर्डर दिया था। यह वैसा ही आदेश है। यह टर्निंग पॉइंट है, बहुत ऐतिहासिक ऑर्डर है।

बता दें कि एक दिन पहले वादी शैलेंद्र कुमार पाठक व्यास के अधिवक्ता विष्णु शंकर जैन, सुधीर त्रिपाठी, सुभाष नंदन चर्तुवेदी और दीपक सिंह ने कोर्ट में दलील पेश की। कहा कि उनकी तरफ से दिए गए आवेदन के एक भाग को अदालत ने पहले ही स्वीकार कर लिया है। इसके तहत व्यासजी के तहखाने को जिलाधिकारी की सुपुर्दगी में दे दिया गया है। इसी के साथ उन्होनें कहा कि हमारा दूसरा अनुरोध है कि जौ बैरिकेडिंग नंदीजी के सामने की गई है, उसे खोलने की अनुमति दी जाए।

वहीं व्यासी के तहखाने में साल 1993 के पहले जैसे पूजा के लिए अदालत के आदेश से आने-जाने दिया जाए। इस पर अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी की तरफ से अधिवक्ता मुमताज अहमद और एखलाक अहमद ने आपत्ति जताई है। उन्होनें कहा कि व्यासजी का तहखाना मस्जिद का हिस्सा है। वहां, पूजा की अनुमति नहीं दी जा सकती है।

यह मुकदमा पूजा स्थल अधिनियम से बाधित है। तहखाना मस्जिद का हिस्सा है और वह वक्फ बोर्ड की संपत्ति है। लिहाजा, वहां पूजा-पाठ कि अनुमति न दी जाए। हालांकि अदालत ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद बुधवार को अपना फैसला सुना दिया है।

उत्तराखंड : ज्ञानवापी मामले में बड़ा फैसला, तहखाने में हिंदुओ को मिला पूजा का अधिकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here