नैनीताल

अजय भट्ट ने सीएम को लिखा खत, कोरोना से मरने वाले पत्रकारों को दी जाए सरकारी मदद

  • अरविंद मालगुड़ी, नई दिल्ली

भारतीय जनता पार्टी के सांसद अजय भट्ट ने कोरोना वायरस से मरने वाले पत्रकारों के लिए सरकारी सहायता की मांग की है. उन्होंने इसे लेकर सूबे के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को खत लिखा है. भट्ट ने अपने खत में लिखा है कि कोरोना वायरस से मरने वाले पत्रकारों को मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक मदद की जाए. so उन्होंने लिखा कि सरकार को ऐसा नियम पारित करना चाहिए जिससे कोरोना काल में अकाल मृत्यु के गाल में समाने वाले पत्रकारों को मुख्यमंत्री राहत कोष एवं पत्रकार कल्याण कोष परिषद के अलावा कोविड-19 अधिनियम के अंतर्गत because मदद दी जाए. उन्होंने आगे लिखा कि अगर सरकार ऐसा करती है, तो यह सराहनीय प्रयास होगा.

भट्ट ने कहा कि ऐसा करने पर प्रभावित परिवारों को मदद मिलने के साथ-साथ पत्रकार अपने दायित्वों का निर्वहन और अधिक तत्परता एवं निडरता से कर सकते हैं.  because  मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को कोरोना वायरस से मरने वाले पत्रकारों को सरकारी सहायता देने की मांग करने वाले खत लिखा है.

कौन हैं अजय भट्ट?

अजय भट्ट नैनीताल से सांसद हैं. उन्होंने साल 2019 के लोकसभा चुनाव में नैनीताल सीट से कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश सिंह रावत को 3,39,096 वोटों से हराया. उनके राजनीतिक करियर की शुरुआत साल 1996 से हुई. 1996 में अविभाजित यूपी में पहली बार वह रानीखेत से भाजपा के टिकट पर विधायक बने. butउत्तराखंड बनने के बाद साल 2002 और 2012 में विधायक बने. साल 2017 के विधानसभा चुनाव में वह रानीखेत से हार गए. उस वक्त कहा जा  रहा था कि अगर भट्ट चुनाव जीतते तो उनका मुख्यमंत्री बनना तय था. हालांकि सूबे में भाजपा की सरकार बनने की वजह से उन्हें पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई थी.

Share this:

Himantar Uttarakhand

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *