संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए सामाजिक संस्था आगाज़ फैडरेशन पीपलकोटी ने स्वास्थ्य विभाग को दी जीवनरक्षक दवायें और स्वास्थ्य सामग्री  

  • हिमांतर ब्‍यूरो, चमोली

कोविड की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए जनपद चमोली के स्वास्थ्य विभाग और क्षेत्र में कार्यरत् सामाजिक संस्था आगाज़ फैडरेशन द्वारा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक चमोली so को जीवनरक्षक दवायें और स्वास्थ्य सामग्री उपलब्ध करायी गयीं. सामाजिक संस्था आगाज़ फैडरेशन पीपलकोटी की देहरादून की समाजसेवी एवं ह्यूमैनिटेरियन संगठनों – अमाया (सोशियल सर्विस इनीशिएटिव),  देहरादून राउंड टेबल 51 और देहरादून लेडीज़ सर्कल 106 के माध्यम से लगभग 3 लाख 20 हजार रूपये मूल्य की चिकित्सा सामग्री स्वास्थ्य विभाग चमोली को उपलब्ध कराई गयी.

शिव

सामाजिक कार्यकर्ता एवं पूर्व जिला पंचायत सदस्य श्रीमती उषा रावत एवं आगाज़ फैडरेशन के अध्यक्ष जेपी मैठाणी को मुख्य चिकित्सा अधीक्षक चमोली द्वारा 7 जून 2021 को सर्जिकल आइटम और दवाओं की आवश्यकता के संदर्भ में पत्र दिया गया. उसके अनुसार संस्था द्वारा 20 आवश्यक दवा, इंजेक्शन और सूक्ष्म so उपकरण जिला चिकित्सालय को उपलब्ध कराये गये. यही नहीं संस्था द्वारा कोविड की दूसरी लहर के दौरान अप्रैल से जून के मध्य तक- जोशीमठ चिकित्सालय में शक्ति फाउंडेशन के सहयोग से 86 आशा कार्यकर्ताओं हेतु कोविड किट, घाट चिकित्सालय में आसरा ट्रस्ट के सहयोग से, नारायणबगड़ स्वास्थ्य केन्द्र में मैड संस्था देहरादून के सहयोग से, पीपलकोटी स्वास्थ्य केन्द्र में चिकित्सा उपकरण कंसन्ट्रेटर एवं दवायें, मास्क, सैनिटाइज़र, जिला कारागार चमोली, जिलाधिकारी चमोली के कार्यालय को जीवितेश फाउंडेशन एवं आईएजी उत्तराखण्ड के सहयोग से पूर्व में मास्क, सैनिटाइज़र उपलब्ध कराये गये.

शिव

प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जीएस राणा ने इस अवसर पर कहा कि सामाजिक संस्थाओं द्वारा इस प्रकार के सहयोग से कोविड जैसी महामारी के बुरे प्रभावों को नियंत्रित किया जा सकता है. so उन्होंने इस कार्य के लिए आगाज़ फैडरेशन एवं उनके सहयोगी संगठनों को धन्यवाद दिया. बाल रोग चिकित्सक डॉ. मानस सक्सेना ने कहा कि- आज के इस दौर में बच्चों के लिए ये दवाएं जीवनरक्षक साबित होंगी. संस्था द्वारा उपलब्ध कराई गयी ये दवाएं लगभग रू. 3,20,000/- मूल्य की हैं.

शिव

इस अवसर पर पूर्व कार्यवाहक चिकित्सा अधीक्षक/वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ. जेएस चुफाल, डिप्टी सीएमओ डॉ. एमएस खाती, डॉ. बीपी सिंह, डॉ. उमा रावत, स्टोर इंचार्ज फार्मेसिस्ट so पातंजलि पुरोहित, आगाज़ के कार्यक्रम समन्वयक जयदीप किशोर, क्षेत्रीय कार्यकर्ता धीरज कुमार, सामाजिक कार्यकर्ता उषा रावत एवं चिकित्सा विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे.

Share this:
About Author

Himantar

हिमालय की धरोहर को समेटने का लघु प्रयास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *