देश—विदेश

Metaverse वर्चुअल दुनिया में भी आप जमीन खरीद कर घर बना सकते हैं

टेक वर्ल्ड में वर्चुअल लैंड की बिक्री ट्रेंड में है और लोग तेजी से मेटावर्स में जमीन भी खरीद रहे है. ये लैंड नॉर्मल लैंड से काफी अलग है या यों कहें तो ये आभासी है और इस पर असली घर नहीं बना सकते हैं. फिर भी इसके लिए लोग अरबों रुपये क्यों दे रहे हैंआइए जानने की कोशिश करते हैं.  

फेसबुक और माइक्रोसॉफ्ट सहित दुनिया की बड़ी टेक कंपनियों ने अरबों डॉलर्स का निवेश मेटावर्स में कर रहे हैं. मेटावर्स को नेक्स्ट जेनेरेशन वेब भी माना जा रहा है जहां लोग वर्चुअली एक दूसरे के साथ समय बिताएंगे.  

पॉपुलर मेटावर्स प्लैटफॉर्म सैंडबॉक्स ने पिछले महीने 4.3 मिलियन अमेरिकी डॉलर्स (लगभग 32 करोड़ रुपये) का वर्चुअल लैंड बेचा है. मेटावर्स के इस वर्चुअल लैंड को अमेरिका की एक वीडियो गेम कंपनी के डेवेलपर Republic Realm ने खरीदा है.  

अमेरिका के न्यू यॉर्क शहर बेस्ड ये कंपनी दरअसल मेटावर्स में रियल स्टेट का काम कर रही है. जैसे आप घर खरीदने जाते हैं तो रियल स्टेट कंपनी या ब्रोकर से संपर्क करते हैं ठीक उसी तरह से मेटावर्स में भी अब रियल स्टेट कंपनियां स्टैब्लिश हो रही हैं.  

इसी हफ्ते हॉन्ग कॉन्ग के एक अरबति ने मेटावर्स कंपनी The Snadbox से मेटावर्स में एक बड़ा प्लॉट खरीदा है. साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की एक रिपोर्ट के मुताबिक 42 साल के अरबति ने कहा है कि वो मेटावर्स में खरीदे गए प्लॉट में GPA Pavallion बनाएंगे जहां स्टार्ट अप अपने प्रोडक्ट्स को वर्टुअली बेच सकेंगे.  

इससे पहले Tokens.com की सबसिडरी Metaverse Group ने भी मेटावर्स में $2.43 Million (लगभग 18.25 लाख रुपये) में वर्चुअल प्लॉट खरीदा है.

सवाल ये है कि वर्चुअल प्लॉट खरीदने के बाद इसका क्या किया जाएगा और इसकी लोकेशन क्या होगी?

मेटावर्स – यानी वर्चुअल दुनिया — यहां अलग अलग लोकेशन्स और इनवॉयरमेंट हैं. मेटावर्स इकोसिस्टम के अंदर Decentraland ऑनलाइन इनवायरमेंट है जहां उन्होंने वर्चुअल लैंड/वर्चुअल प्लॉट खरीदा है.  

 

मेटावर्स में भी जिले और शहर…
Decentraland और The Sandbox दो सबसे पॉपुलर प्लैटफॉर्म हैं जहां आप मेटावर्स में वर्चुअल प्लॉट्स खरीद सकते हैं. Decentraland दरअसल एक वर्चुअल रियलिटी (VR) प्लैटफॉर्म है जो इथीरियम ब्लॉकचेन पर बेस्ड है.

इस मेटावर्स प्लैटफॉर्म पर कॉन्फ्रेंस या कमर्शियल प्लॉट खरीदे जा सकते हैं. इतना ही नहींआर्ट गैलरीघर और दूसरे लाइव इवेंट्स के लिए प्लॉट्स खरीदे जा सकते हैं.  

Decentaland के अंदर पांच जिले हैं. इन जिलों के अंदर कई शहर हैं. इनमें क्रिप्टो वैलीड्रैगन सिटीऐथेरियन सिटीवेगस सिटीफैशन स्ट्रीट और डिस्ट्रिक्ट एक्स जैसे शहर हैं. आप यहां प्लॉट खरीद सकते हैं. ये वर्चुअल प्लॉट होगा और खरीदने के बाद आप यहां अपने हिसाब से जो चाहें वो बना सकते हैं.

The Sandbox भी इसी तरह का प्लैटफॉर्म है जहां आप वर्चुअल प्लॉट खरीद सकते हैं. इसके अलावा भी कई मेटावर्स प्लैटफॉर्म है जहां आप वर्चुअल जमीन खरीद सकते हैं.

मेटावर्स में घर खरीदने के लिए आपके पास कई ऑप्शन्स दिए जाएंगे. रोडसाइड में खरीदना चाहते हैंवॉटर फेसिंग खरीदना चाहते हैं.

मेटावर्स में कंपनियां भी तैयार हो चुकी हैं. The Metaverse Group ऐसी ही एक कंपनी है जो Tokens.com की अफिलिएट है. ये रियल स्टेट कंपनी है जो मेटावर्स में प्लॉट दिलाती है.

द मेटावर्स ग्रुप का हेडक्वॉर्टर भी मेटावर्स में ही है. कंपनी का ग्लोबल हेडक्वॉर्टर्स डीसेंट्रालैंड के क्रिप्टो वैली में है. डिसेंट्रालैंड के बारे में हमने आपको ऊपर बताया है.

मेटावर्स में वर्चुअल लैंड या वर्चुअल प्लॉट खरीद कर वहां वर्चुअल शॉपिंग प्लेस बना सकते हैं. बड़े इवेंट और कॉन्सर्ट्स भी वहां आयोजि किए जा सकते हैं.

हाल ही मे अमेरिकी म्यूजिशियन स्नूप डॉग ने भी मेटावर्स में प्लॉट खरीदा है. आने वाले समय में वो वहां परफॉर्म करेंगे. अगर आप ये सोच रहे हैं कि लाइव परफॉर्मेंस वीडियो में देखे जा सकते हैं तो फिर मेटावर्स में क्या होगा?

दरअसल मेटावर्स में आप खुद अपना अवतार बना कर उस लाइव कॉन्सर्ट में प्लेस कर सकते हैं. आपको ऐसा लगेगा कि आप उस कॉन्सर्ट का हिस्सा हैं. सबकुछ वर्चुअली होगा.

15 साल चलने के बाद अब Web 2.0 खत्म होने को आया है और Web 3.0 यानी Metaverse की शुरुआत हो रही है. कोरोना महामारी की वजह से दुनिया भर में लोगों के मिलने जुलनेमीटिंग करने या बातचीत से लेकर घूमने के भी तरीके बदल गए हैं. पढ़ाई ऑनलाइन हो चुकी हैडॉक्टर कंस्लटेशन से लेकर शादियां तक ऑनलाइन हुई हैं.

ऐसे में मेटावर्स को नए जामाने वेब के तौर पर भी देखा जा रहा है. यही वजह की कंपनियां इस स्पेस में जल्द जल्द अपनी एंट्री करना चाहती हैं और इसके लिए अरबों डॉलर्स के निवेश भी किए जा रहे हैं.

जैसे सोशल मीडिया स्पेस में एक तरह से फेसबुक की मोनॉपली है ठीक उसी तरह से कंपनी मेटावर्स में भी मोनॉपली बनाने की तैयारी में है. मार्क जकरबर्ग का कहना है कि मेटावर्स सोशल मीडिया के लिए नेक्स्ट इवोलुशन की तरह है. लोग एक दूसरे से वर्चुअल स्पेस में बातचीत करेंगे और वो ये फील कर पाएंगे कि ये सबकुछ असल में ही हो रहा है.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *