देश—विदेश

भारत आज जो कहता है, दुनिया उसे आने वाले कल की आवाज मानती है -PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पुडुचेरी में 25वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव का उद्घाटन किया। स्वामी विवेकानंद की जयंती के मौके पर आयोजित इस कार्यक्रम में पीएम मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए लोगों को संबोधित भी किया। मोदी ने कहा कि विश्व ने इस बात को माना है कि आज भारत के साथ दो असीम शक्तियां डेमोग्राफी और डेमोक्रेसी हैं।

मोदी ने कहा कि जिस देश के पास जितनी युवा जनसंख्या है उसके सामर्थ्य को उतना ही बड़ा माना जाता है।

भारत के युवाओं के पास डेमोग्राफिक डिविडेंड के साथ-साथ लोकतांत्रिक मूल्य भी हैं, उनका डेमोक्रेटिक डिविडेंड भी अतुलनीय है। भारत अपने युवाओं को डेमोग्राफिक डिविडेंड के साथ-साथ डवलपमेंट ड्राइवर भी मानता है।

भारत के युवा में भविष्य की स्पष्टता

पीएम ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आगे कहा कि आज भारत के युवा में अगर टेक्नालजी का चार्म है, तो लोकतंत्र की चेतना भी है। आज भारत के युवा में अगर श्रम का सामर्थ्य है, तो भविष्य की स्पष्टता भी है। इसीलिए, भारत आज जो कहता है, दुनिया उसे आने वाले कल की आवाज मानती है। आज भारत जो सपने देखता है, संकल्प लेता है उसमें भारत के साथ-साथ विश्व का भविष्य दिखाई देता है। भारत के इस भविष्य का, दुनिया के भविष्य का निर्माण आज हो रहा है।

यूनिकार्न इकोसिस्टम में भारतीय युवाओं का जलवा

मोदी ने आगे कहा कि आज भारत का युवा Global Prosperity के Code लिख रहा है। पूरी दुनिया के यूनिकार्न इकोसिस्टम में भारतीय युवाओं का जलवा है। भारत के पास आज 50 हजार से अधिक स्टार्ट अप्स का मजबूत इकोसिस्टम है। हम मानते हैं कि बेटे-बेटी एक समान हैं। इसी सोच के साथ सरकार ने बेटियों की बेहतरी के लिए शादी की उम्र को 21 साल करने का निर्णय लिया है। बेटियां अपना करियर बना पाएं, उन्हें ज्यादा समय मिले, इस दिशा में ये एक बहुत महत्वपूर्ण कदम है।

 

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *