उत्तराखंड हलचल

भूमि घोटाले में पूर्व सीएम विजय बहुगुणा के बेटे साकेत की कंपनी भी शामिल

देहरादून। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के भू माफिया यशपाल तोमर पर कसे शिकंजे के बाद चिटहेरा गांव भूमि घोटाले के तार उत्तराखंड से जुड़ रहे हैं। दो आईएएस और एक आईपीएस के रिश्तेदारों के नाम पर हुई खरीद के बाद अब पूर्व सीएम विजय बहुगुणा के बेटे साकेत बहुगुणा का नाम भी आ रहा है। तोमर के साथ मिलकर साकेत की कंपनी ने गांव में अनुसूचित जाति के लोगों के नाम आवंटित सौ बीघा भूमि को खरीदा। पुलिस ने साकेत की कंपनी को भी तोमर के साथ सह आरोपी बनाया है।

यूपी पुलिस ने ग्रेटर नोएडा के चिटहेरा गांव में अनुसूचित जाति को लोगों को आवंटित भूमि पट्टों का बड़ा खेल उजागर किया है। इस भू घोटाले का सरगना गैंगस्टर तोमर था, लेकिन तोमर के साथ उत्तराखंड कैडर के दो आईएएस और एक आईपीएस के रिश्तेदार भी सहआरोपी बने हैं। आप चौंक जाएंगे कि अनुसूचित जाति की जमीनों के साथ हुए अवैध खेल में यह भी शामिल थे। आरोपियों में एक आईएएस अफसर मिनाक्षी सुंदरम का ससुर, एक आईएएस ब्रिजेश संत के पिता और आईपीएस राजीव स्वरूप की मां नामजद है।

अब नया खुलासा हुआ है कि त्रिदेव प्राइवेट लिमिटेड नाम की जिस कंपनी को यशपाल तोमर के साथ सह आरोपी बनाया गया है वह उत्तराखंड के पूर्व सीएम साकेत बहुगुणा की है। इससे साफ हो गया है कि भू माफिया तोमर के किस तरह से उत्तराखंड में बड़े बड़े नेताओं और अफसरों के साथ रिश्ते थे। यूपी पुलिस अब इस सारे प्रकरण में जांच आगे बढ़ाएगी तो कुछ और नए तथ्य निकल कर भी आएंगे। 

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *