देश—विदेश

जोधपुर में पथराव के बाद तनाव, 10 थाना क्षेत्रों में लगा कर्फ्यू

राजस्थान के जोधपुर में ईद से पहले दो समुदायों के लोगों के बीच झंडे को लेकर सांप्रदायिक तनाव की स्थिति पैदा हो गई.  तनाव इतना बढ़ गया कि दोनों समुदायों के बीच भीषण पत्थरबाजी हुई जिसमें थानेदार समेत तीन पुलिसकर्मी और 4 पत्रकार घायल हो गए. फिलहाल हालात पर काबू पाने के लिए यहां की इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई है. रात करीब एक बजे से जोधपुर में सभी इंटरनेट सेवाएं बंद है. हिंसा में अब तक क्या क्या हुआ.

1. इस विवाद की शुरुआत सोमवार आधी रात के बाद हुई जब अल्पसंख्यक समुदाय के कुछ लोग ईद पर जालोरी गेट के पास एक चौराहे पर धार्मिक झंडे लगा रहे थे, इन लोगों ने चौराहे में स्थापित स्वतंत्रता सेनानी बालमुकुंद बिस्सा की प्रतिमा पर झंडा लगाया जिसका हिंदू समुदाय के लोगों ने विरोध किया.

2. राजस्थान के जोधपुर शहर में सांप्रदायिक तनाव के बाद मंगलवार को 10 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया.

3. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से शांति और सद्भाव बनाए रखने की अपील की और उच्च स्तरीय बैठक के बाद हालात पर काबू पाने के लिए गृह राज्यमंत्री राजेंद्र यादव सहित आला अधिकारियों को तत्काल जोधपुर जाने के निर्देश दिए.

4. प्राप्त जानकारी के अनुसार हिंदू समुदाय के लोगों ने आरोप लगाया कि वहां परशुराम जयंती पर लगाए गए ध्वज को हटाकर इस्लामी ध्वज लगाया गया, इसको लेकर दोनों समुदाय के लोग आमने सामने आ गए और झड़प हो गई.

5. पुलिस नियंत्रण कक्ष के अनुसार स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन पथराव में पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए. पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे. अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए इलाके में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं.

6. फिलहाल हालात काबू में कर लिए गए और मंगलवार यानी आज सुबह जालोरी गेट के पास ईदगाह पर ईद की नमाज अदा की गई, लेकिन नमाज के बाद कुछ लोगों ने वहां खड़े वाहनों पर पथराव किया. इसमें कुछ गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई.

7. हालात पर काबू पाने के लिए जोधपुर के कार्यपालक मजिस्ट्रेट राजकुमार चौधरी ने शहर के दस थाना क्षेत्रों, उदयमंदिर, सदर कोतवाली, सदर बाजार, नागोरी गेट, खांडा फलसा, प्रतापनगर, प्रतापनगर सदर, देवनगर, सूरसागर व सरदारपुरा में मंगलवार दोपहर एक बजे से बुधवार मध्यरात्रि तक कर्फ्यू लगाने के आदेश जारी किए.

8. जालौरी गेट और कबूतर चौक इलाके में हुई हिंसा के लिए कांग्रेस जहां बीजेपी को दोषी ठहरा रही है तो वहीं बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि एक सनकी साजिश के तहत जोधपुर में ये सब हो रहा है.

9. मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, ‘जोधपुर में एक सनकी साजिश के तहत यह सब हो रहा है. राजस्थान सरकार के लिए धर्मनिरपेक्षता बस एक वोट बैंक का जरिया रह गया है. राजस्थान सरकार अपनी साजिश में ही फंस कर रह गई है.’

10. हिंसा की एक  घटना बीजेपी विधायक सूर्यकांत व्यास के घर के बाहर हुई. उपद्रवियों ने घर के बाहर खड़े वाहनों को आग लगा दी और विधायक के घर के बाहर हंगामा किया. इन घटनाओं के बाद गहलोत सरकार ने डीजीपी और वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक बुलाई है.लेकिन गहलोत सरकार जिन सवालों के घेरे में आई है, उस बारे में आपको बताते हैं.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *