देश—विदेश

गोरखपुर कांड के बाद बढ़ाई गई लखनऊ में CM आवास की सुरक्षा

गोरखनाथ मंदिर के बाहर पुलिसकर्मियों पर हमले के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस अलर्ट हो गई है. सभी मंदिरों और मठों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. इसके साथ ही लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास की भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है. 5 कालीदास मार्ग स्थित सीएम आवास पर सीआरपीएफ की टुकड़ी तैनात की गई है.

गोरखपुर कांड के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा बढ़ाई गई है. इसके तहत मुख्यमंत्री आवास की सुरक्षा बढ़ाई गई. केंद्रीय सुरक्षा बलों की दो प्लाटून के 72 महिला और पुरुष जवान 24 घंटे तैनात रहेंगे. सीएम आवास के बाहर CRPF की 233 बटालियन की अल्फा यूनिट भी है, जिसमें महिला जवान होती हैं.

दरअसल, इन दिनों मुख्यमंत्री आवास पर जनता दरबार लग रहा है, जिसमें यूपी के अलग-अलग कोनों से आए फरियादी अपनी फरियाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने रखते हैं. जनता दरबार के दौरान कोई संदिग्ध ना घुसे और लोगों को जांच हो, इसके लिए लखनऊ पुलिस को दी गई सीआरपीएफ यूनिट को एहतियातन लगाया गया है.

गोरखनाथ मंदिर की बढ़ाई गई सुरक्षा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की समीक्षा के बाद गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा और बढ़ाई गई है. मंदिर के पहले गेट पर ही हथियारबंद पीएसी के जवान तैनात किए गए. हर आने-जाने वाले की जामा तलाशी ली जा रही. महिलाओं की तलाशी के लिए महिला पुलिस भी तैनात कर दी गई है.

गोरखनाथ मंदिर के मेन गेट तक किसी भी गाड़ी के जाने पर पूरी तरह रोक लगी. गाड़ियों की भी चेकिंग करवाई जा रही. संदिग्ध नजर आ रहे हर व्यक्ति से उसका पहचान पत्र भी मांगा जा रहा. गोरखनाथ मंदिर के गेट पर ही बुलेट प्रूफ पोस्ट लगाई गई हैं. पुलिस का मानना है कि इस घटना से हमने बहुत कुछ सीखा है, हम अपनी कमियों को दूर कर रहे हैं.

गोरखनाथ मंदिर के बाहर पुलिसकर्मियों पर हमला

गोरखनाथ मंदिर के बाहर मुर्तुज़ा नामक युवक ने धार्मिक नारे लगाते हुए मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश की थी और सुरक्षा में तैनात पीएसी के दो जवानों को धारदार हथियार से हमला किया था. अब तक की जांच में पुलिस ने मुर्तजा के आतंकी कनेक्शन का दावा किया. इस घटना के बाद गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा बढ़ाई गई है.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *