उत्तराखंड हलचल

प्रचार के अंतिम दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रुद्रपुर में जनसभा को किया संबोधित

रुद्रपुर: इस बार का उत्तराखंड चुनाव बीजेपी के लिए कितना महत्वपूर्ण है इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बीजेपी ने अपने सारे दिग्गज मैदान में उतार दिए हैं. यही नहीं, प्रधानमंत्री मोदी लगातार तीसरे दिन उत्तराखंड में प्रचार के लिए उतरे हैं. प्रधानमंत्री ने आज रुद्रपुर में चुनावी सभा को संबोधित किया. वहीं, पीएम के साथ-साथ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी सीएम व फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान सब के सब चुनावी मैदान में प्रचार के लिए उतरे हुए हैं.

शनिवार को प्रचार के अंतिम दिन बीजेपी ने अपनी पूरी ताकत लगा दी है. गौर करने वाली बात ये है कि बीजेपी कुमाऊं की ओर ज्यादा ध्यान देती नजर आ रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज प्रचार के आखिरी दिन रुद्रपुर स्थित मोदी मैदान में चुनावी जनसभा को अपने चिर-परिचित अंदाज में संबोधित किया.

पीएम मोदी ने कहा कि उधम सिंह नगर में मिनी इंडिया की झलक दिखती है. हिंदुस्तान का ऐसा कोई कोना नहीं होगा जहां के लोग यहां नहीं रहते हों और यहां अपना भाग्य आजमाने नहीं पहुंचते हों. पीएम ने कहा कि, यहां ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ की जीवंत तस्वीर देखने को मिलती है. पीएम ने कहा कि, आज चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है और उत्तराखंड में उनकी चुनाव अभियान और प्रचार सभा का भी आखिरी दिन है लेकिन सामने भीड़ देखकर उनको लग रहा है कि जैसे सभी लोग चुनाव नतीजे के बाद भारतीय जनता पार्टी की धामी सरकार के शपथ ग्रहण का निमंत्रण देने आए हैं.

उत्तराखंड के पास वैक्सीन का सुरक्षा कवच:

 पीएम ने कहा कि, आज उत्तराखंड ने रिकॉर्ड समय में शत प्रतिशत आबादी का सिंगल डोज वैक्सीनेशन पूरा करके दिखाया है. ये केवल सरकार की प्रतिबद्धता के कारण संभव हो सका है. कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि, वो लोग कहते थे कि उत्तराखंड के दूरस्थ इलाकों में कभी वैक्सीन पहुंच ही नहीं सकती, ये वही लोग हैं जिन्होंने वैक्सीनेशन अभियान के दौरान भारत की वैक्सीन को लगातार बदनाम किया. ये वही लोग हैं जो वैक्सीन को लेकर चारों तरफ अफवाह फैलाने में लगे थे.

वैक्सीन की वजह से हर देशवासी सुरक्षित:

 पीएम ने कहा कि इनको ये तकलीफ थी कि वैक्सीन की वजह से हर देशवासी सुरक्षित हो जाएगा और मोदी-धामी सरकार की जय-जयकार होगी. ये लोग नहीं चाहते थे उत्तराखंड में फिर से टूरिस्ट आना शुरू हों. अगर ऐसा हो जाता तो उनकी राजनीति की खिचड़ी कैसे बनेगी? ये लोग नहीं चाहते थे कि वैक्सीन का कवच पाने के बाद रोजगार और उद्योग धंधे फिर से चल पड़ें.

कोरोना के कारण पर्यटन प्रभावित होने की वजह से जिन लोगों पर असर पड़ा था उनके लिए भी धामी सरकार ने आर्थिक सहायता जारी की. अगर कांग्रेस के शासनकाल में ऐसी महामारी आती तो ना जाने क्या होता? मुफ्त राशन तक लोगों तक नहीं पहुंचता क्योंकि ये लोग घोटाला कर देते.

हजारों किसानों के खातों में पहुंच रहे पैसे: 

उत्तराखंड के हजारों किसानों के बैंक खाते में साल में तीन बार सीधे पैसे पहुंच रहे हैं. क्या कांग्रेस के जमाने में ऐसा कोई सोच सकता था कि किसी के खाते में सीधे पैसे पहुंच जाएं? कांग्रेस पार्टी की दशकों से एक ही पॉलिसी रही है कि चुनाव में बड़े-बड़े वादे करो, सरकार बनाओ और फिर घोटाले करो-भ्रष्टाचार करो.

कांग्रेस के वादे झूठ का पुलिंदा: 

इस बार भी कांग्रेस ने जो वादे किए हैं वो झूठ का पुलिंदा हैं. गरीबी हटाने को लेकर भी कांग्रेस वाले झूठ बोलते हैं. वो पिछले 40 साल से गरीबी हटाओ कहते हैं लेकिन उत्तराखंड के गरीबों को ही पलायन के लिए उन्होंने मजबूर किया. बीजेपी सरकार उत्तराखंड के विकास के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ रही है. हमने यहां सड़कों का रिकॉर्ड बनाया है. ऑल वेदर रोड का काम भी पूरा होने वाला है, उसका लाभ पर्यटन और उद्योग दोनों ही क्षेत्रों को मिलेगा.

वहीं, केदारखंड की तर्ज पर कुमाऊं क्षेत्र के लिए मानसखंड के विकास का संकल्प लिया गया है. इसके साथ ही टनकपुर-बागेश्वर रेल लाइन के जरिए उन इलाकों में भी रेल पहुंचने जा रही है जहां पहले लोग सपने में भी नहीं सोच सकते थे.

कांग्रेस का उद्देश्य सिर्फ घोटाले करना: 

पीएम ने कहा कि कांग्रेस का एक ही उद्देश्य है उत्तराखंड में घोटाले के चौके-छक्के लगाना. ये वही लोग हैं जिन्होंने खनन माफियाओं के साथ मिलकर मां गंगा को भी नहर घोषित कर दिया था. ये लोग मां गंगा को भी लूटने में लगे थे. यही उनमें और हम में फर्क है कि हम मां गंगा की स्वच्छता के लिए काम करते हैं. यह लोग चालाकी करके गंगा की रेत से खनन करके चोरी करने में लगे रहते थे.

पीएम मोदी ने कहा कि बीजेपी सरकार उधम सिंह नगर जिले में नदियों में प्रदूषण को रोकने के लिए नालों को बंद करने का काम करवा रही है. नालों के पानी को साफ करने के लिए करोड़ों की लागत से सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाए जा रहे हैं.

अटल जी ने दी ऋषिकेश को एम्स की सौगात: 

उत्तराखंड और बीजेपी का रिश्ता हमारी विरासत है. अटल जी ने उत्तराखंड बनाया और उनके प्रयासों से उधम सिंह नगर और इस इलाके में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के नेटवर्क की ताकत को बढ़ाया जा सका है. अटल जी ने ऋषिकेश को एम्स की सौगात दी और उनके काम को आगे बढ़ाते हुए बीजेपी सरकार ने उधम सिंह नगर में एम्स का सेटेलाइट सेंटर खोलकर सेवा का विस्तार किया है. क्षेत्र के लोगों को पहले इलाज के लिए दूर जाना पड़ता था लेकिन अब यहीं बेहतर इलाज होगा.

उत्तराखंड में चार और मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं. पांच डिग्री कॉलेजों का काम प्रगति पर है. अब गरीब के बेटे को भी अपने ही राज्य में डॉक्टर बनने की सुविधा मिलेगी. बीजेपी सरकार का प्रस्ताव है कि मेडिकल इंजीनियरिंग लोगों को उनकी भाषा में ही पढ़ानी चाहिए ताकि अंग्रेजी के अभाव में गरीब इस क्षेत्र में आने से न रह जाएं.

कुछ लोग भाजपा की डबल इंजन सरकार का मुकाबला नहीं कर पा रहे हैं. उन लोगों को अचानक उत्तराखंड की संस्कृति याद आने लगी है, जिनको कभी देश की विरासत समझ नहीं आई. इतने सालों तक इस क्षेत्र में लाखों बंगाली परिवार रहते आ रहे हैं, लेकिन आजादी के बाद से आजतक उनके पहचान पत्र में ‘पूर्वी पाकिस्तान’ शब्द लिखा होता था. बीजेपी सरकार ने ही बंगाली समुदाय के लोगों को उनका हक दिया और उनके पहचान पत्र से ‘पूर्वी पाकिस्तान’ शब्द को हटाने का काम किया.

दिवंगत सीडीएस बिपिन रावत को गुंडा कहते थे कांग्रेसी: 

ये वही लोग हैं जिन्होंने देश की सेना का अपमान किया. दिवंगत सीडीएस बिपिन रावत को गुंडा कहते थे. ये शब्द कहकर इन लोगों ने केवल एक व्यक्ति का नहीं उत्तराखंड के हर एक नौजवान, सैनिकों और उनके परिवार का अपमान किया है. ये लोग उत्तराखंड की पहचान को खत्म करने के लिए साजिश कर रहे हैं. एक पुरानी कहावत है- मुंह में राम बगल में छुरी. ये लोग ऐसे हैं जिनके मुंह से कभी राम को नहीं निकलता लेकिन प्रदेश को नुकसान पहुंचाने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगे लेकिन हम उत्तराखंड की संस्कृति के साथ कतई खिलवाड़ नहीं होने देंगे.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *