देश—विदेश

5 राज्यों में चुनाव पर ओमिक्रॉन का खतरा! चुनाव आयोग ने मांगी विस्तृत रिपोर्ट

चुनाव आयोग और स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) ने आज पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों (Assembly Election 2022) को लेकर बैठक की. इस बैठक में स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण और मुख्य चुनाव आयुक्त समेत अन्य लोग शामिल हुए. सूत्रों के मुताबिक, स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण (Health Secretary Rajesh Bhushan) ने चुनाव आयोग (Election Commission) को कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ऑमिक्रॉन से जुड़ी विस्तृत जानकारी दी.

भूषण ने चुनाव आयोग को बताया कि अभी स्थितियां काबू में हैं और वैश्विक स्तर पर मिली रिपोर्ट्स के मुताबिक ऑमिक्रॉन घातक नहीं है. हालांकि ये वेरिएंट (Omicron Variant) तेजी से फैल रहा है. ऐसे में बचाव के साधन अपनाने और सतर्कता संबंधी कदम उठाने की सख्त जरूरत है. उन्होंने आयोग से कहा कि राज्य सरकारें उपयोगी कदम उठा रही हैं. जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव प्रस्तावित हैं. उन राज्यों से भी चर्चा हुई है. चुनाव संबंधी राज्यों में अभी ऑमिक्रोन के मामले नियंत्रण में हैं. लेकिन उनसे जरूरी कदम उठाने के लिए कहा गया है.

यह बैठक चुनाव टालने के संबंध में नहीं

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अडल्ट का कोरोना वैक्सीनेशन अभियान (Corona Vaccination Drive) जारी है और बच्चों का टीकाकरण जल्द ही शुरू होने जा रहा है. वहीं, चुनाव आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह बैठक चुनाव टालने के संबंध में नहीं है. ये बैठक केवल ऑमिक्रॉन कि स्थिति और जरूरी कदम उठाने के लिए विचार-विमर्श करने के उद्देश्य से रखी गई है. सूत्रों ने यह भी कहा कि चुनाव आयोग अगले साल जनवरी के पहले हफ्ते में फिर से स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ बैठक कर सकता है. आयोग ने स्वास्थ्य मंत्रालय से ओमिक्रॉन पर विस्तृत रिपोर्ट सौंपने को कहा है.

दिल्ली में ओमिक्रॉन के सबसे ज्यादा मामले

गौरतलब है कि कोरोनावायरस के खतरनाक ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित मरीजों की संख्या देश में 578 हो (Omicron Variant Cases in India) गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे अपडेटेड डाटा में इसकी जानकारी दी गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि राजधानी दिल्ली में अभी तक 142 लोग ओमिक्रॉन से संक्रमित हुए हैं. जबकि दूसरे स्थान पर महाराष्ट्र है, जहां वेरिएंट के 141 केस हैं.

हिमाचल प्रदेश से आज सामने आया पहला मामला 

वहीं, करेल में 57, गुजरात में 49, राजस्थान में 43, तेलंगाना में 41, तमिलनाडु में 34 और कर्नाटक में 31 लोग ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित हुए हैं. इसके अलावा, मध्यप्रदेश में 9, आंध्र प्रदेश में 6, पश्चिम बंगाल में 6, हरियाणा और उड़ीसा में ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित चार मरीज मिले हैं. दूसरी ओर, चंडीगढ़ और जम्मू-कश्मीर में तीन-तीन, उत्तर प्रदेश में दो, हिमाचल प्रदेश, लद्दाख और उत्तराखंड में एक-एक संक्रमित मिले हैं.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *