देश—विदेश

15-18 एज ग्रुप के 2 करोड़ से ज्यादा बच्चों को लगी वैक्सीन की पहली डोज

कोरोना वैक्सीनेशन अभियान (Corona Vaccination) में तेजी लाते हुए भारत ने 3 जनवरी से 15-18 एज ग्रुप के बच्चों के वैक्सीनेशन की भी शुरुआत कर दी. देश भर में अब तक 150.61 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है. बीते चौबीस घंटों के दौरान 90 लाख से ज्यादा लोगों ने अपना वैक्सीनेशन करवाया. वहीं, 15 से 18 साल के बच्चों की बात करें तो इस एज ग्रुप के 2 करोड़ से ज्यादा बच्चों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है.

भारत में कोविड-19 की तीसरी लहर (Corona Third Wave) की रफ्तार तेज हो गई है और संक्रमण के मामलों में भी लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. पिछले 24 घंटों के दौरान पूरे देश से कोरोना वायरस के 1.41 लाख नए मामले दर्ज किए गए. जिसके बाद कोरोना का खौफ एक बार फिर से बढ़ गया है. ऐसे में कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) अभियान पर बहुत अधिक जोर दिया जा रहा है और हर दिन लाखों की संख्या में लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है.

15-18 एज ग्रुप के 2 करोड़ से ज्यादा बच्चों को लगी वैक्सीन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 15-18 एज ग्रुप के 2,023,4,580 बच्चों को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की पहली डोज मिल चुकी है. भारत में कुल वैक्सीनेशन आंकड़ा अब 1,50,61,92,903 हो गया है. 37 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 18-44 एज ग्रुप के 51,16,40,381 व्यक्तियों ने अपनी पहली डोज ले ली है और कुल 34,83,30,801 लोगों ने अपनी दूसरी डोज प्राप्त कर ली है. वहीं, 10,38,8,771 हेल्थकेयर वर्कर्स को पहली डोज और 97,36,651 वर्कर्स को दूसरी डोज दी गई है.

फ्रंटलाइन वर्कर्स की बात करें तो देश में अब तक 1,83,87,012 फ्रंटलाइन वर्कर्स को पहली डोज और 1,69,53,203 वर्कर्स को दूसरी डोज दी गई है. इस बीच, 45-59 एज ग्रुप के 19,58,03,770 लोगों को पहली डोज और 15,50,74,089 लोगों को दूसरी डोज लगी है. 60 साल से ज्यादा उम्र में, 12,21,03,139 लाभार्थियों को पहली डोज और 9,75,40,500 लोगों को दूसरी डोज मिली है.

देशभर से कोविड-19 के 1.41 लाख नए मामले दर्ज

देशभर में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 1,41,986 नए मामले दर्ज किए गए हैं. जबकि इस दौरान 285 लोगों की मौत हो गई. चिंता की बात यह है कि स‍िर्फ पांच राज्‍यों से सामने आए कोरोना के नए मामले एक लाख का आंकड़ा पार कर गए हैं. सबसे अधिक मामले दर्ज करने वाले शीर्ष पांच राज्यों में महाराष्ट्र सबसे ऊपर है, जहां 40,925 नए केस मिले हैं. इसके बाद पश्चिम बंगाल में 18,213 मामले, दिल्ली में 17,335 मामले, तमिलनाडु में 8,981 मामले और कर्नाटक में 8,449 मामले सामने आए हैं.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *