उत्तराखंड हलचल

दारोगा ने हरिद्वार के बिल्डर से बदमाश के नाम पर मांगी 20 लाख रुपये की रंगदारी

नरेंद्रनगर: पहले आम अपराधी ही कुख्यात बदमाशों का नाम लेकर रंगदारी का काम करते थे, लेकिन अब पुलिस भी रंगदारी मांगने के लिए बदमाशों का नाम लेने लगी है। पीटीसी नरेंद्रनगर में तैनात एक दारोगा पर हरिद्वार के बिल्डर से एक बदमाश का नाम लेकर 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगने का आरोप है। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने आरोपित दारोगा को निलंबित करते हुए जांच एसटीएफ को सौंप दी है।

हरिद्वार के एक बिल्डर ने डीजीपी से मुलाकात कर बताया कि उनका हरिद्वार में एक प्रोजेक्ट निर्माणाधीन है। उन्हें उत्तराखंड पुलिस का एक दारोगा लगातार वसूली के लिए फोन कर रहा है। बिल्डर ने बताया कि जब उसने फोन उठाना बंद कर दिया तो आरोपित ने वाट्सएप पर मैसेज भेजकर बदमाश के नाम पर रंगदारी मांगी और रंगदारी न देने पर काम बंद करवाने की धमकी दी। डीजीपी ने मामले की जांच के आदेश जारी किए तो पता लगा कि बदमाश के नाम पर रंगदारी मांगने वाला आरोपित दारोगा भवानीशंकर है। दारोगा की मूल तैनाती उत्तरकाशी में है, जबकि इस समय वह पुलिस ट्रेनिंग सेंटर (पीटीसी) नरेंद्रनगर में संबद्ध है। बताया जा रहा है कि दारोगा का हरिद्वार में घर है, जिसके निकट ही बिल्डर प्रोजेक्ट तैयार कर रहा है।

पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया कि किसी पुलिसकर्मी की ओर से बदमाश का नाम लेकर रंगदारी मांगना गंभीर मामला है। इस मामले की जांच एसटीएफ को सौंपी गई है। जांच के बाद ही पता लगेगा कि दारोगा बिल्डर को डराने के लिए किसी बदमाश का नाम ले रहा था या दारोगा के बदमाश के साथ कोई कनेक्शन हैं। उन्होंने बताया कि शिकायत व तथ्यों के आधार पर दारोगा को निलंबित किया गया है। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *