देश—विदेश

IIT मंडी के निदेशक ने भूत को भगाने के लिए दिया गजब का मंत्र

नई दिल्ली. देश में विज्ञान और तकनीक के सबसे बड़े प्रतीक के रूप में आईआईटी की अलग पहचान है. लेकिन आईआईटी मंडी के नए निदेशक बने प्रो. लक्ष्मीधर बहेरा ने हास्यास्पद बयान देते हुए विज्ञान का ही माखौल उड़ा दिया है. प्रो. लक्ष्मीधर बहेरा (professor Laxmidhar Behera) का एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वे यह कहते हुए सुने जा रहे हैं कि उन्होंने अपने एक मित्र के माता-पिता का इलाज भगवतगीता के मंत्र से किया है. बहेरा दावा कर रहे हैं कि उनके एक दोस्त के माता-पिता को बुरी आत्मा ने ग्रसित कर लिया था जिसके कारण वे काफी बीमार थे. इसके बाद उन्होंने मंत्र से इस बीमारी का इलाज किया. बहेरा के इस बयान पर विवाद हो गया है.

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग के प्रोफेसर हैं बहेरा
आईआईटी कानपुर की वेबसाइट के मुताबिक बहेरा डिपार्टमेंट ऑफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर हैं. उन्होंने राउरकेला से 1990 में एमएससी इंजीनियरिंग और वर्ष 1996 में आईआईटी दिल्ली से पीएचडी किया है. उन्हें रोबोटिक्स व आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्षेत्र में महारत हासिल हैं. दिलचस्प बात यह है कि प्रो. लक्ष्मीधर बहेरा परोपकारी कामों के लिए भी जाने जाते हैं. 2020 में कोविड लॉकडाउन के कारण उन्होंने कैंपस में ही कम्युनिटी किचेन का संचालन किया था जिसमें 800 गरीब बच्चों को रोजाना खाना खिलाया जाता था. इसकी तारीफ 15 अप्रैल 2020 को शिक्षा मंत्री धमेंद्र प्रधान भी कर चुके हैं. पांच मिनट के वीडियो क्लिप में बहेरा को यह कहते हुए सुना जा रहा है कि किस तरह उन्होंने 1993 में अपने एक दोस्त के परिवार को भूत-प्रेत से बचाया था.

आधुनिक विज्ञान बहुत सी घटनाओं की व्याख्या नहीं कर सकता
वीडियो में वे कहते हैं, चेन्नई में मेरे एक दोस्त का परिवार भूत से बुरी तरह प्रभावित था. इसके बाद मैंने वहां जाने का फैसला किया और भगवतगीता का पाठ किया. इसके साथ ही हरे राम हरे कृष्ण मंत्र भी गाया. 10 से 15 मिनट के अंदर मैंने इस मंत्र का चमात्कार देखा. मेरे दोस्त के पिता जो बहुत कम लंबाई के थे और मुश्किल से चल-फिर रहे थे, अचानक उठ खड़े हुए और इस तरह डांस करने लगे कि उनका सिर लगभग छत तक पहुंचने लगा. उनके पिता को बुरी आत्मा ने पूरी तरह से ग्रसित कर लिया था. बहेरा यह भी कहते हैं कि इस घटना के बाद दोस्त की मां और पत्नी भी भूत के चपेट में आ गईं. इससे छुटकारा पाने के लिए हमें एक घंटे तक जोर-जोर से मंत्र का पाठ करना पड़ा. वीडियो के बारे में प्रो. बहेरा ने कहा कि मैंने जो किया वही सुनाया. उन्होंने कहा कि यह सच है कि भूत का अस्तित्व है. उन्होंने कहा कि आधुनिक विज्ञान बहुत सी घटनाओं की व्याख्या नहीं कर सकता है. डॉ लक्ष्मीधर बहेरा कुछ दिन पहले ही आईआईटी के स्थायी निदेशक बने हैं.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *