देश—विदेश

भारत सरकार ने वीरता के लिए इंडियन कोस्ट गार्ड के कई जवानों को किया सम्मानित

देश में 26 जनवरी यानी बुधवार को 73वां गणतंत्र दिवस (Republic Day 2022) मनाया जाएगा. इसके लिए प्रशासन की तैयार‍ियां जोरों-शोरों पर हैं. इस क्रम में 26 जनवरी के अवसर पर सम्मानित होने वाले इंडियन कोस्ट गार्ड (Indian Coast Guard) के जवानों की भी ल‍िस्‍ट आ गई है. भारत सरकार की तरफ से इसमें कई कमांडर और अधिकारियों को उनकी वीरता के लिए ‘तटरक्षक मेडल’ दिया गया है. ज‍िनको यह सम्‍मान मिला है, उसमें भारतीय तटरक्षक के कमांडेंट सुमित धीमान, डिप्टी कमांडेंट कमांडेंट विकास नारंग, अर्धी प्रगति कुमार सहित कई अधिकारियों का नाम शामि‍ल है.

इस बार 939 पुलिस कर्मियों को उनके शौर्य के लिए गैलेंट्री अवॉर्ड्स से सम्मानित किया जाएगा. इसमें 189 वीरों को पुलिस मेडल से सम्मानित किया जाएगा. वहीं, विशिष्ट सेवा के लिए 88 वीरों को राष्ट्रपति का पुलिस मेडल (पीपीएम) और 662 को सराहनीय सेवा के लिए पुलिस मेडल (पीएम) दिया जाएगा. पुलिस मेडल पाने वाले 189 वीरों में से 134 कर्मियों को जम्मू और कश्मीर क्षेत्र में उनकी वीरता के लिए सम्मानित किया जाएगा.

गणतंत्र दिवस परेड के शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रीय समर स्मारक पर माल्यार्पण कर सर्वोच्च बलिदान देने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि देने में देश का नेतृत्व करेंगे. गणतंत्र दिवस पर परेड सुबह 10.30 बजे शुरू होगी और दोपहर 12 बजे संपन्न होगी. दो टीमें भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) की एक पुरुष टीम और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की एक महिला टीम मोटरसाइकिल पर अपने करतब दिखाती नजर आएगी.

75 विमान दिखाएंगे करतब

गणतंत्र दिवस (Republic Day 2022) समारोह का सीधा प्रसारण देशभर में दूरदर्शन के सभी चैनलों पर 26 जनवरी को सुबह 9:15 बजे से शुरू होकर राजपथ पर होने वाले कार्यक्रमों के अंत तक किया जाएगा. यह सीधा प्रसारण डीडी नेशनल, डीडी न्यूज यूट्यूब चैनलों और न्यूज ऑन एआईआर ऐप और वेबसाइट पर भी उपलब्ध होगा. मंत्रालय ने कहा कि समावेशी कवरेज सुनिश्चित करने के उद्देश्य से, डीडी न्यूज आखों देखा हाल (कमेंट्री) को सांकेतिक भाषा में भी प्रसारित करेगा.

चप्पे-चप्पे पर पहरा

राष्ट्रीय राजधानी में गणतंत्र दिवस के मौके पर सुरक्षा के लिए 27 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है तथा आतंक रोधी व्यवस्था को और मजबूत किया गया है. पुलिस उपायुक्त (डीसीपी), सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) और निरीक्षक, उप निरीक्षक रैंक के अधिकारियों को सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गई है. सशस्त्र पुलिस बल और कमांडो, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के अधिकारियों तथा जवानों को भी तैनात किया गया है.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *