देश—विदेश

एप से हनीट्रैप में फंसाकर लूटने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 5 गिरफ्तार

नोएडा: एप के जरिए हनीट्रैप में फंसाकर लोगों से दोस्ती कर लूटने वाले गिरोह का फेज-2 पुलिस ने मंगलवार को खुलासा किया है। आरोपी बेहोश कर वारदात करते थे। पुलिस ने गिरोह में शामिल दो महिलाओं सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से पुलिस ने लोगों से लूटा गया सामान बरामद किया है। मंगलवार को पुलिस टीम ने पकड़े गए आरोपियों को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

नोएडा सेंट्रल जोन के एडीसीपी इलामारन ने बताया कि पुलिस टीम को सूचना मिली थी कि एक गिरोह एप के जरिए लोगों से दोस्ती कर लूट की घटनाओं को अंजाम दे रहा है। इसके बाद मंगलवार को पुलिस टीम ने भंगेल लेबर चौक के पास से दो महिलाओं सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया। पकड़े गए आरोपियों की पहचान विजयनगर गाजियाबाद निवासी विनोद, मुरादनगर निवासी पूजा शर्मा और उत्तम नगर दिल्ली निवासी पूनम मेहतो के रूप में हुई है। आरोपियों के दो साथी अभी फरार हैं। पुलिस टीम उनकी तलाश में दबिश दे रही है। जल्द ही दोनों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

आरोपियों से जेवर, नगदी और मोबाइल बरामद

पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपी टिंडर एप के माध्यम से लोगों से दोस्ती करते थे। बाद में उनके साथ लूट करते थे। पकड़े गए आरोपियों के पास से पुलिस टीम ने सोने की अंगूठी, सोने की चेन और सोने का सिक्का बरामद किया है जिनकी कीमत लगभग एक लाख 75 हजार रुपये है। इसके अलावा दो चांदी के ग्लास, चांदी का सिक्का, आर्टिफिशियल सामान, आधार कार्ड, विभिन्न बैंकों के 10 क्रेडिट, डेबिट कार्ड, चार मोबाइल, 60 नींद की गोलियां, एक पुड़यिा में पिसा हुआ पाउडर और 4200 रुपये बरामद किए हैं।

नींद की गोलियां देकर करते थे बेहोश

पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि ये लोग एप के जरिए लोगों से दोस्ती करते थे। जो लोग इनकी दोस्ती के जाल में फंस जाते थे, उन्हें ये लोग विश्वास में लेकर मिलने के लिए बुलाते थे और खाने या पीने की चीज में नींद की गोलियां देकर उसे बेहोश कर देते थे। इसके बाद उससे रुपये, गहने और अन्य कीमती सामान लूटकर फरार हो जाते थे। आरोपी कई लोगों को निशाना बना चुके हैं।

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *