उत्तराखंड हलचल

गडकरी ने जारी किया उत्तराखंड भाजपा का दृष्टि पत्र, सभी वर्गों पर फोकस

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव -2022 के लिए भाजपा ने अपना दृष्टिपत्र (घोषणा पत्र) जारी कर दिया है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इसे जनता को समर्पित किया। इसमें हर वर्ग को ध्यान में रखा गया है। पीएम मोदी (PM Modi) का विजन भी घोषणा पत्र (Uttarakhand BJP Manifesto)में साफ नजर आया।

  • भाजपा के घोषणा पत्र की मुख्य बातें 
  • पूर्व सैनिकों सीमावर्ती क्षेत्रों में बसने के लिए दी जाएगी मदद।
  • 45 नए स्पाट टूरिज्म किए जाएंगे विकसित
  • छह हजार केंद्र और छह हजार राज्य सरकार देगी किसान सम्मान निधि
  • हर जिले में बनेगा मेडिकल कालेज
  • बीपीएल परिवार की मुखिया को तीन हजार
  • उत्तराखंड में सशक्त भू-कानून बनाएगी भाजपा

देहरादून के राजपुर रोड स्थित एक होटल में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दृष्टि पत्र का विमोचन किया। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री और भाजपा के प्रदेश चुनाव प्रभारी प्रल्हाद जोशी, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, तीरथ सिंह रावत, राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, भाजपा की प्रदेश सह प्रभारी रेखा वर्मा आदि मौजूद थे।

वर्चुअली जुड़े मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

भाजपा के दृष्टिपत्र लान्च कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी वर्चुअली जुड़े। इस दौरान उन्होंने भाजपा सरकार की उपलब्धियां गिनाई। उन्होंने दृष्टिपत्र को बनाने में शामिल सभी का आभार जताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे उत्तराखंड मेरी मातृभूमि है, उसी तरह भारतीय जनता पार्टी मेरी मां के समान है।

उत्तराखंड के इतिहास पहली बार आम जन के सुझाव से बना दृष्टिपत्र

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की चुनाव घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि ये दृष्टि पत्र उत्तराखंड के इतिहास में पहली बार आम जन की सहभागिता से बना दृष्टिपत्र बना है। हर विधानसभा में मोबाइल टीम और रथ भेज सुझाव पेटिका रखी गई और लोगों को बता उनके सुझाव लिए गए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उत्तराखंड को 2025 तक देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाना चाहते हैं।

पार्टी को मिले 77 हजार से अधिक सुझाव

इसके अलावा पार्टी ने राज्य के सभी विधानसभा क्षेत्रों से दृष्टि पत्र के लिए आमजन से भी सुझाव लिए। विधानसभा क्षेत्रों से 77 हजार से अधिक सुझाव भाजपा को मिले हैं। इनका विश्लेषण कर प्रमुख सुझावों को भी दृष्टि पत्र का हिस्सा बनाया गया है।

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *