उत्तराखंड हलचल

ED की निगाहें अब उत्तराखंड के बिल्डरों पर, जल्द होने वाली है कार्यवाही

सहारनपुर के खनन कारोबारी हाजी इकबाल बाला की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही। उत्तर प्रदेश के बाद जांच एजेंसियों और ईडी की निगाहें बाला के उत्तराखंड के सहयोगियों पर है सूत्रों के अनुसार उत्तराखंड के कई  बिल्डरों के साथ हाजी इकबाल उर्फ बाला की पार्टनरशिप है जिसको लेकर अब ईडी ने अपनी निगाहें उत्तराखंड के बिल्डरों पर टेडी कर दी है और जांच उत्तराखंड की तरफ मोड़ दी है  जल्द ही उत्तराखंड में कई जगह ई डी की कार्यवाही देखी जा सकती है

एक माह पहले ही इकबाल के दो बेटे अलीशान और जावेद की  गिरफ्तारी हो चुकी है. वे दोनों अभी तक जेल में हैं. बता दें कि हाजी इकबाल की पिछले महीने तक  सवा सौ करोड़ से अधिक की संपत्ति कुर्क हो चुकी है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, जल्द हाजी इकबाल की गिरफ्तारी हो सकती है. हाजी इकबाल का एक बेटा गैंगस्टर एक्ट में अभी वांछित चल रहा है.

बसपा (BSP) के पूर्व एमएलसी और सहारनपुर (Saharanpur) के खनन कारोबारी हाजी इकबाल . बीते करीब दो साल से हाजी इकबाल और उनके सहयोगी अवैध रूप से कमाई गई अकूत संपत्तियों को लेकर सुर्खियों में हैं. हाजी इकबाल को सहारनपुर का खनन माफिया भी बताया जाता है . हाजी इकबाल ने तमाम मुखौटा कंपनियां बनाकर उत्तर प्रदेश की बंद पड़ी चीनी मिलें खरीदी थीं. ईडी हाजी इकबाल की 1097 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच कर चुकी है. हाजी इकबाल के कई करीबियों और सहयोगियों को पुलिस और अन्य जांच एजेंसियां गिरफ्तार कर चुकी हैं. अब जल्द ही आपको उत्तराखंड में भी इकबाल बाला के कई सहयोगियों पर कार्रवाई होती दिखेगी।

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *