उत्तराखंड हलचल

बसंत पंचमी पर्व पर हरिद्वार में श्रद्धालुओं ने गंगा में आस्‍था की डुबकी लगाई

हरिद्वार। हरकी पैड़ी ब्रह्मकुंड पर बसंत पंचमी का स्नान हो रहा है। स्नान पर किसी भी तरह की कोई रोक नहीं है। बावजूद इसके बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या काफी कम है। हरिद्वार और उसके आसपास के ही लोग गंगा स्नान को हर की पैड़ी और उसके आसपास के गंगा तटों पर पहुंचे हैं। प्रशासनिक व्यवस्था कोविड-19 प्रोटोकोल के अनुसार लागू की गई है।

बसंत पंचमी स्नान के लिए श्रद्धालु सुबह से ही गंगा घाट पर जुटने लगे थे। सबसे अधिक भीड़ हरकी पैडी ब्रह्मकुंड पर रही। गंगा स्नान और सूर्य आराधना के बाद मंदिरों की परिक्रमा पूजन और दान दक्षिणा का दौर जारी है। श्रद्धालु दान दक्षिणा कर पुण्य की डुबकी लगा रहे हैं। हरकी पैड़ी सहित हर गंगा घाट हर-हर गंगे और जय मां गंगे के जय से गुंजायमान है।

ज्योतिषाचार्य पंडित शक्ति धर शर्मा शास्त्री के अनुसार बसंत पंचमी के दिन गंगा स्नान पूजन इत्यादि और अन्य शुभ कार्य के लिए पुण्य काल की आवश्यकता नहीं होती है, समस्त दिवस को इन सब के लिए अति शुभ माना जाता है। इसलिए आज के दिन बड़ी संख्या में शुभ कार्य निपटाए जा रहे हैं।

विद्यालयों और अन्य शिक्षण संस्था सहित तमाम धार्मिक संस्थाओं में बसंत पंचमी पर विशेष पूजन वह सरस्वती पूजन का समारोह किया जा रहा है। धर्मनगरी हरिद्वार में आज के दिन पतंग बाजी की परंपरा भी है इस कारण बच्चे और युवा पतंग उड़ाने में मशगूल हैं।

 

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *