देश—विदेश

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के बयान को लेकर हुआ विवाद

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी अपने बयान को लेकर विवादों में घिर गए हैं। उन्होंने शुक्रवार को मुंबई के अंधेरी वेस्ट में आयोजित एक कार्यक्रम में विवादित बयान दिया है। उन्होंने इस कार्यक्रम में कहा कि मुम्बई से अगर गुजराती और राजस्थानी लोगों को निकाल दो तो कोई पैसा बचेगा ही नहीं, तो मुम्बई काहे की आर्थिक राजधानी रह जायेगी। राज्यपाल के इस बयान का विरोध हो रहा है।

संजय राउत ने ट्वीट कर जताई आपत्ति

शिवसेना और एमएनएस ने राज्यपाल के इस बयान पर विरोध जताया है। शिवसेना नेता संजय राउत ने तो ट्वीट कर राज्यपाल के बयान पर कड़ी आपत्ति जताई है। उन्होंने सीएम शिंदे पर निशाना साधते हुए कहा-‘सीएम शिंदे..सुन रहे हो..यह तुम्हारा महाराष्ट्र अलग है..अगर थोड़ा भी स्वाभिमान बचा है तो अभी राज्यपाल का इस्तीफा मांगो.. दिल्ली के सामने कितना झुकोगे??’

‘महाराष्ट्र इसे बर्दाश्त नही करेगा’

संजय राउत ने कहा-‘राज्यपाल ने जिस तरह की बात कही वो निंदनीय है। महाराष्ट्र की जनता ने मुम्बई के लिए खून पसीना दिया है। हर चीज़ पैसों से नही तौल जाता है।

बीजेपी और सीएम को चाहिए कि वह इस तरह के वक्तव्य के लिए उनकी निंदा करे और केंद्र सरकार को उन्हें तुरंत वापस बुलाना चाहिए। वो लगातार विवादित बयान देते हैं और महाराष्ट्र और मराठी मानुस का अपमान करते हैं। अब महाराष्ट्र इसे बर्दाश्त नही करेगा।राज्यपाल के दिये बयान पर पूरे राज्य में गुस्सा है। हर कोई उनके टिप्पणी की निंदा कर रहा है लेकिन अब तक बीजेपी और सीएम चुप हैं। हमे देखना है वो इस मुद्दे पर क्या कहते हैं। राज्यपाल का बयान उन 105 हुतात्माओं का अपमान है जिन्होंने मुम्बई को महाराष्ट्र के साथ रखने के लिए अपनी जान दी। ‘

कांग्रेस ने भी राज्यपाल के बयान पर जताई आपत्ति

महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने भी राज्यपाल के बयान पर आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा-‘ राज्यपाल के बयान का हम विरोध करते हैं। उनको महाराष्ट्र के इतिहास के बारे में जानकारी भी नहीं होगी। हमारे देश के उद्योगपति धीरूभाई अंबानी को भी मुंबई और महाराष्ट्र ने एक बड़ा उद्योगपति बनाया है। महाराष्ट्र में सभी को इज्जत दी जाती है चाहे वो किसी भी राज्य का हो । भगतसिंह कोश्यारी का यह बयान सही नही है इसलिए देश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को इसमे हस्तक्षेप करना चाहिए और उन्हें राज्यपाल के पद से हटा देना चाहिए। राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी को महाराष्ट्र की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *