देश—विदेश

CBI ने तेजस्वी यादव के गुरुग्राम मॉल समेत 25 ठिकानों पर की छापेमारी

सीबीआई ने बुधवार को भर्ती घोटाले में बिहार, दिल्ली, हरियाणा के गुरुग्राम समेत 25 ठिकानों पर छापेमारी की है. सीबीआई ने गुरुग्राम के एक मॉल पर भी रेड डाली है. दावा है कि इस मॉल के मालिक लालू यादव के बेटे और बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और उनके करीबी हैं. सीबीआई ने जॉब के बदले जमीन मामले में ये कार्रवाई की है.

केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने बिहार में पटना, कटियार और मधुबनी में कई ठिकानों पर छापेमारी की. सीबीआई ने जिन जगहों पर छापेमारी की है, उनमें RJD एमएलसी सुनील सिंह, पूर्व आरजेडी एमएलसी सुबोध रॉय, राज्यसभा सांसद अशफाक करीम और फैयाज अहमद के ठिकाने भी शामिल हैं. बिहार में RJD नेता यहां सीबीआई की छापेमारी ऐसे वक्त पर हुई, जब बुधवार को विधानसभा में फ्लोर टेस्ट होना है. ऐसे में आरजेडी ने इसे बदले की कार्रवाई करार देते हुए केंद्र की सत्ताधारी बीजेपी पर निशाना साधा है.

जॉब के बदले जमीन मामले में तीसरी बार छापेमारी

सीबीआई ने भर्ती घोटाले में तीसरी बार छापेमारी की है. आरोप है कि लालू यादव के रेल मंत्री रहते जॉब लगवाने के बदले में जमीन और प्लॉट लिए गए थे. सीबीआई ने सी मामले में जांच के बाद पिछले दिनों लालू यादव, राबड़ी देवी, मीसा यादव, हेमा यादव और कुछ ऐसे उम्मीदवारों पर केस दर्ज किया है, जिन्हें प्लॉट या प्रॉपर्टी के बदले जॉब दी गई.

इसके बाद सीबीआई ने मई में इस मामले में पहली बार लालू यादव से जुड़ीं 17 जगहों पर छापेमारी की थी. सीबीआई की यह कार्रवाई करीब 14 घंटे तक चली थी. ये छापे लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटी मीसा भारती के पटना, गोपालगंज और दिल्ली स्थित जगहों पर ये छापेमारी की गई थी.

इसके बाद जुलाई में सीबीआई ने लालू यादव के पूर्व ओएसडी भोला यादव को गिरफ्तार किया था. इस दौरान सीबीआई ने बिहार के पटना और दरभंगा में चार ठिकानों पर छापे भी मारे थे. भोला यादव 2004 से 2009 तक लालू यादव के ओएसडी रहे. लालू यादव उस वक्त केंद्रीय रेल मंत्री थे. उसी समय रेलवे में भर्ती घोटाला हुआ था. आरोप है कि भोला यादव ही घोटाले का कथित सरगना है.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *