देश—विदेश

लोकसभा और राज्यसभा से भाजपा ने किया मुस्लिम सांसदों का सफाया

नई दिल्ली: इस वक्त देश की सियासत में चर्चा राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Election) को लेकर हो रही है। बीजेपी, कांग्रेस (Congress) समेत दूसरे दलों की ओर से उम्मीदवारों के नाम घोषित कर दिए गए हैं। बीजेपी की ओर से जो 22 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी हुई है उसमें कोई मुस्लिम चेहरा शामिल (No Muslim Face For BJP) नहीं है। साथ ही बीजेपी की ओर से राज्यसभा में पार्टी की ओर से जो मुस्लिम चेहरे थे उनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है। बीजेपी के राज्यसभा में तीन मुस्लिम सांसद जिनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है उसमें मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi),सैय्यद जफर इस्लाम और एम जे अकबर हैं। इनका कार्यकाल कुछ दिनों में समाप्त हो रहा है और बीजेपी ने उन्हें दोबारा से उम्मीदवार नहीं बनाया है। वहीं लोकसभा में पहले से ही बीजेपी की ओर से कोई मुस्लिम सांसद नहीं है।

नकवी, सैय्यद जफर इस्लाम और एम जे अकबर का कार्यकाल
मुख्तार अब्बास नकवी वर्तमान में केंद्र में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री हैं और राज्यसभा सांसद के तौर पर उनका कार्यकाल 7 जुलाई को समाप्त हो रहा है। नियमों के हिसाब से यदि 6 महीने के भीतर वो संसद के किसी भी सदन के सदस्य नहीं बने तो उनका मंत्री पद भी जाना तय है। वहीं सैय्यद जफर इस्लाम जो पार्टी के प्रवक्ता भी हैं उनका कार्यकाल 4 जुलाई को समाप्त हो रहा है। वहीं एम जे अकबर का कार्यकाल 29 जून को समाप्त हो रहा है।

सपा नेता अमर सिंह के निधन के बाद खाली हुई राज्यसभा सीट पर साल 2020 में बीजेपी ने सैय्यद जफर इस्लाम को उम्मीदवार बनाया था। 2020 सितम्बर महीने में वो चुनकर राज्यसभा पहुंते हैं। जफर इस्लाम भाजपा के प्रवक्ता हैं और कहा जाता है कि केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को भाजपा में लाने में इस्लाम की प्रमुख भूमिका थी।

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *