देश—विदेश

चुनाव से पहले पंजाब कांग्रेस के 15-20 लोगों के बीजेपी में शामिल होने की संभावना

पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly Election 2022) से पहले कांग्रेस (Congress) को बड़ा झटका लग सकता है. उम्मीद जताई जा रही है कि राज्य में बीजेपी (BJP) को और ज्यादा मजबूती मिलने वाली है. दरअसल सूत्रों ने जानकारी दी है कि राज्य के पूर्व कैबिनेट मंत्रियों, सांसदों, विधायकों, पंजाबी गायकों और मशहूर हस्तियों सहित लगभग 15 से 20 लोगों के भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल होने की संभावना है.

सूत्रों की मानें तो पंजाब के कई पूर्व कैबिनेट मंत्री, सांसद, विधायक, पंजाबी गायक और मशहूर हस्तियां पहले से ही बीजेपी के संपर्क में हैं. इनमें से अधिकांश लोगों का अतीत में कांग्रेस, आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party), शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) और राष्ट्रीय समाजवादी कांग्रेस (Rashtriya Samajwadi Congress) के साथ राजनीतिक जुड़ाव रहा है. सूत्रों ने जानकारी दी है कि चार गायकों समेत ये सभी लोग इसी हफ्ते पंजाब में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल होंगे.

एक हफ्ते के भीतर कई लोग थामेंगे बीजेपी का दामन

सूत्रों ने कहा, ‘बहुत सारे लोग बीजेपी का दामन थामने वाले हैं, इसलिए इस प्रक्रिया में अभी कुछ समय लग सकता है. जॉइनिंग केवल चार-पांच दिनों के बाद यानी एक हफ्ते के भीतर होने की संभावना है.’ सूत्रों ने बताया, ‘पंजाब ने जिन कृत्यों के लिए गुस्से का सामना किया है, चाहे वह ‘आतंकवाद हो या ड्रग्स’ उसे खत्म किया जाना चाहिए. अच्छे लोगों को सत्ता में होना चाहिए ताकि युवाओं को फायदा पहुंच सके. क्योंकि जो पढ़े-लिखे हैं, वे विदेश जा रहे हैं और वहीं बस रहे हैं.’

पंजाब की सत्ता में काबिज होने के लिए बीजेपी जीतोड़ मेहनत कर रही है. इसी कड़ी में, हाल ही में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आगामी पंजाब विधानसभा का चुनाव पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) की पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस (Punjab Lok Congress) के साथ गठबंधन में लड़ने का ऐलान किया है. सिंह ने इस घोषणा से पहले केंद्रीय मंत्री और पंजाब के लिए बीजेपी के चुनाव प्रभारी गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) से उनके आधिकारिक आवास पर मुलाकात की थी.

पंजाब में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव

कैप्टन अमरिंदर सिंह के पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के साथ महीनों की लड़ाई के बाद, कांग्रेस छोड़ने और एक नई पार्टी ‘पंजाब लोक कांग्रेस’ का गठन करने से पंजाब में राजनीतिक परिदृश्य बदल गया है. सिंह ने बीजेपी के साथ गंठबंधन के बाद कहा था, ‘हमारा गठबंधन निश्चित तौर पर 101 प्रतिशत चुनाव जीतेगा. सीटों का तालमेल जीत की संभावना के हिसाब से तय किया जाएगा.’

गौरतलब है कि पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद सिंह ने पंजाब लोक कांग्रेस पार्टी का गठन कर लिया था. बीजेपी का शिरोमणि अकाली दल से बहुत पुराना गठबंधन था, लेकिन केंद्र के तीन कृषि कानूनों के मुद्दे पर दोनों दलों का गठबंधन टूट गया था. बता दें कि पंजाब में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं.

Share this:

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *